जिंदगी में गाँठ बाढ़ ले इन 5 बातो को, सफलता चूमेगी आपके कदम चाणक्य नीति !

2 . अपना कोई भी कार्य करने से पहले अपने आप से यह तीन सवाल अवश्य करें की यह कार्य में क्यों कर रहा हु, इसका परिणाम क्या होगा ?और क्या में सफल हो पाउँगा ? जब गहन सोच विचार के बाद आपको इन तीनो प्रश्नों का उत्तर मिले, तभी किसी नए कार्य की शुरुवात करनी चाहिए.

अक्सर हम अनेक कार्यो को बिना सोचे समझे करना आरम्भ तो कर देते है परन्तु बाद में हम उन कामो में उलझ जाते है और वैसी सफलता नहीं मिल पाती जैसी हमने सोची थी. ऐसा तभी होता है जब अपने उस कार्य के लिए भली भाति प्लानिंग ना करी हो.

आफिस में ऐसा बार बार होने से आपकी इमेज अन्य साथियो एवं बॉस के सामने एक ऐसे व्यक्ति के रूप में बन जाती है जो किसी प्रोजेक्ट को हाथ में तो ले लेता है परन्तु उसे पूर्ण नहीं कर पता.

नतीजा यह होता है की धीरे धीरे आपको काम महत्व वाले काम दिए जाते है और कम्पनी अथवा आफिस में आपकी तरक्की के दरवाजे हमेशा हमेशा के लिए बंद हो जाते है.

3 . जब आप किसी काम को शुरू कर दे तो बीच में आने वाली बढ़ाओ से घबराए नहीं, किसी भी कार्य को बिच में ही ना छोड़े.

ऐसा कभी नहीं होता की किसी कार्य अथवा प्रोजेक्ट को आपने जैसा सोचा था वह उस नियत समय में ही समाप्त हो जाए . यह तो तभी सम्भव है जब वह काम आपने प्लानिंग के साथ सोच समझकर आरम्भ किया हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *