धन एक लालच है, कारण चाहे कुछ भी हो लेकिन धन को पाने की इंसान की इच्छा कभी खत्म नहीं हो सकती. आज आप किसी को 10 रुपये दोगे तो कल को वह इससे अधिक पाने की कामना करेगा.

दरअसल धन और इच्छा का एक गहरा रिश्ता है, इच्छाएं धन पाने के लिए मजबूर करती हैं और जब धन मिल जाता है तो उसके आधार पर इच्छाओं में वृद्धि होने लगती है

इसी धन को पाने के चक्कर में कई बार इंसान जीवन जीना ही भूल जाता है. बस सारी उम्र पैसा-पैसा करता रह जाता है. खैर, जीवन की इस कड़वी सच्चाई से परे यदि आप सच में धन पाने के इच्छुक हैं लेकिन विभिन्न प्रयास करने पर भी सफल नहीं हो रहे तो हिन्दू धार्मिक ग्रंथों में धन पाने के अचूक मंत्र दिए गए हैं.

जब भी कभी हिन्दू धर्म में हम धन को किसी देवी-देवता से जोड़ते हैं तो सबसे पहले ‘मां लक्ष्मी’ का नाम सामने आता है. अपने पति भगवान विष्णु के वरदान द्वारा पूजनीय कहलाने वाली तथा घर में सुख-समृद्धि लाने वाली मां लक्ष्मी को सारा संसार पूजता है.

मां लक्ष्मी की उपासना अमूमन हफ्ते के सात दिनों में से शुक्रवार को खास रूप से की जाती है. मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से धन पाने का तरीका भी शुक्रवार के संदर्भ से ही जुड़ा है.

इस उपाय के अंतर्गत आपको किसी भी महीने के पहले शुक्रवार के दिन स्नान करने के बाद घर के पूजा स्थान में घी का दीपक जलाकर मां लक्ष्मी को मिश्री और खीर का भोग लगाना है. इसके बाद मां लक्ष्मी के ‘ॐ श्रीं श्रीये नम:’ मंत्र का 108 बार जाप करें.

पूजा करने के तत्पश्चात 7 वर्ष की आयु से कम की कन्याओं को घर बुलाकर पूरे श्रद्धाभाव से भोजन कराएं. भोजन में खीर और मिश्री जरूर खिलाएं. ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होकर आपकी आर्थिक परेशानी को खत्म करेंगी.

Loading...
loading...
Loading...