*अपने घर के मुख्य द्वार को साफ पानी से धो दीज‌िए, अगर दरवाजे लोहे के हैं तो उन पर रंग रोगन करवा कर स‌िंदूर से स्वास्त‌िक का च‌िन्ह बनवाएं और आपके घर के पूजा घर को साफ़ करे पूजा घर के दरवाजे को भी साफ़ क्र उसपे रंग रोगन कराये | पुराणी टंगी हुई फूल मालाये हटा दीजिये ।

*घर में खराब इलेक्ट्रॉ‌न‌िक्स सामान हैं तो उसे बनवाकर इस्तेमाल में ले आइये। ऐसा संभव नहीं हो तब उसे घर से न‌िकाल दीजिए। दिवार पर लगी हुई दिवार घडी को या तो चालू कीजिये या तो उसे भी हटा दीजिये |

*घर की दीवार फट गई हो या प्लास्टर टूट गया है तो उसकी मरम्मत करवा लें खास तौर पर रसोई और ड्राईंग रूम में इन बातों का ध्यान रखें।

*अगर आपके पास कोई उधार या कर्ज है तो कोश‌िश करें क‌ि उसे चुका दें और कोई क़र्ज़ न ले | शास्‍त्रों के अनुसार देवी लक्ष्मी कहती हैं ज‌िसके स‌िर कर्ज का बोध रहता उसके घर मैं नहीं रहती।

*घर के छत पर कूड़ा कबाड़ जमा है तो उसे हटाकर साफ कर दीज‌िए। छत साफ रहने से तनाव और परेशानी में कमी आती है। और अथिक स्तिथि में भी सुधर आता है |

*ख‌िड़की दरवाजे में लगा शीशा टूट गया है तो उसे बदलवा दें। अगर शीशा धुंधला हो गया है तब भी उसे बदल दें क्योंक‌ि इससे सकारात्मक उर्जा के प्रवेश में बाधा आती है।घर में इधर उधर पड़े सामान को उनकी जगह पर रखे अपने कपड़ो को साफ़ के उनको अलमारी में लगाए और अलमारी तो जरूर साफ़ करे |

Loading...
loading...
Loading...