भारत में 25 अगस्त से गणेश चतुर्थी के पर्व की शुरूआत हो गई हैं. भगवान गणेश के भक्त 10 दिनों के लिए गणपति बप्पा को अपने घर लेकर आते हैं और उनकी स्थापना करते हैं. ऐसा माना जाता है गणेश जी कैलाश पर्वत को छोड़कर अपने भक्तों को आशीर्वाद देने के लिए धरती पर आते हैं.

इस साल गणेश चतुर्थी का यह त्योहार 5 सितंबर तक चलेगा और अनंत चतुर्थी के दिन गणेश जी की मूर्ति का विसर्जन कर उन्हें खुशी और उत्साह के साथ विदा किया जाएगा. विसर्जन का मतलब होता है कि भगवान गणेश अब अपने घर कैलाश पर्वत लौट गए हैं.

इस वर्ष गणेश चतुर्थी का पर्व 11 दिन तक चलेगा. कुछ लोग गणपति को अपने घरों में डेढ़ दिन के लिए लाते हैं तो कुछ तीन, पांच और सात दिन के लिए गणेश जी की मूर्ति की स्थापना करते हैं.

Loading...
Loading...