इस मंत्र के जाप से मुर्दा भी हो जाता है जिंदा, भक्तों की हर इच्छा तुरंत होती है पूरी

पंचाक्षरी मंत्र

ॐ नमः शिवाय को ही शिव का पंचाक्षरी मंत्र कहा जाता है।

इसका नियमित रूप से जाप करना सभी संकटों से मुक्ति दिला देता है। साथ ही मृत्यु के पश्चात व्यक्ति को मोक्ष प्राप्त होता है।

शिव भक्ति में मात्र शिव नाम स्मरण ही सारे सांसारिक सुखों को देने वाला है, विशेष रूप से शास्त्रों में बताए शिव उपासना के विशेष दिनों, तिथि और काल को तो नहीं चूकना चाहिए।