ब्रह्मवैवर्त पुराण के अनुसार पूजा-पाठ से जुड़ी 8 ऐसी चीजें बताई गई हैं, जिन्हें सीधे जमीन पर नहीं रखना चाहिए।

ब्रह्मवैवर्तपुराण वैष्णव पुराण है। इस पुराण में चार खंड हैं। पहला खंड ब्रह्म खंड है, दूसरा प्रकृति खंड है, तीसरा गणपति खंड है और चौथा श्रीकृष्ण जन्म खंड है। इस पुराण में पूजा-पाठ और सुखी जीवन के लिए कुछ खास सूत्र बताए गए हैं।

यहां जानिए ब्रह्मवैवर्तपुराण के अनुसार किसी भी पूजन कर्म में कौन-कौन सी चीजें सीधे जमीन पर नहीं रखनी चाहिए….

दीपक:

पूजा करते समय कभी भी दीपक को नीचे नहीं रखना चाहिए, पूजा में दीपक रखते समय उसके नीचे चावल रख ले और उसके बाद उस पर दीपक रखना चाहिए

सुपारी

सुपारी भी सीधे जमीन पर नहीं रखनी चाहिए इसके लिए ये ध्यान रखे की पूजा में जब भी सुपारी रखे उसके नीचे एक सिक्का जरूर रख ले..

देवी देवताओ की मुर्तिया:

देवी देवताओ की मुर्तिया रखते समय भी उन्हें सीधे जमीन पर नहीं रखना चाहिए इसकी बजाय किसी लकड़ी या सोने – चांदी के सिंहासन पर थोड़े से चावल रख कर उन्हें स्थापित करना चाहिए

और भी बहुत सारी चीजे है जो हमने इस वीडियो में बताई है. अधिक जानकारी के लिए ये वीडियो देखे…

Loading...
Loading...