बुधवार, 20 सितंबर तक पितृ पक्ष है और इन दिनों में किए गए श्राद्ध और तर्पण से पितर देवता प्रसन्न होते हैं। शास्त्रों की मान्यता है कि घर-परिवार के मृत सदस्य ही पितर देवता बनते हैं और इनकी आत्मा की तृप्ति के लिए श्राद्ध पक्ष में विशेष पुण्य कर्म किए जाते हैं।

इन कर्मों से पितर देवता हमारी सभी इच्छाएं पूरी करते हैं। यहां जानिए कुछ ऐसी बातें, जिन्हें श्राद्ध पक्ष में ध्यान रखना चाहिए

loading...
Loading...
Loading...