राहु और केतु दोनों को नीच ग्रह की श्रेणी में रखा जाता है। माना जाता है कि जिस व्यक्ति की राशि में इन ग्रहों का प्रवेश होता है, उसकी जिंदगी में तूफान आ जाता है। परेशानियों से भरी उसकी जिंदगी करीब एक से डेढ़ साल तक इसी तरह से रहती है, क्योंकि दोनों की ग्रह एक से डेढ़ वर्ष के बाद ही राशि बदलते हैं।

इस बार 9 सितंबर को शाम 4 बजे राहु सिंह राशि से निकलकर कर्क राशि में और केतु कुंभ राशि से मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं। जिसका असर इन दोनों राशियों पर तो होगा ही साथ ही कुछ राशि के लोग भी इन दोनों की नजरों से नहीं बच पाएंगे।

Loading...
Loading...