धनतेरस के साथ ही दिवाली का त्योहार शुरू हो जाता है। माना जाता है कि इस दिन कोई भी नई चीज खरीदने से धन धान्य में वृद्धि होती है, लेकिन शायद ही आपको मालूम हो कि इसके पीछे अकाल मृत्यु को टालने की भी मान्यता जुड़ी है।

भगवान धनवंतरी जो चिकित्सा के देवता भी हैं, उनसे स्वास्थ्य और सेहत की कामना के लिए संतोष रूपी धन से बड़ा कोई धन नहीं है। लोग इस दिन ही दीपावली की रात लक्ष्मी गणेश की पूजा हेतु मूर्ति भी खरीदते हैं।

Loading...
Loading...