गरुड़ पुराण में पांच ऐसे काम बताए गए हैं जिन्हें करने से लक्ष्मी मनुष्य को छोड़ देती है। दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि अगर मनुष्य को गरीब नहीं होना है तो इन पांच कामों को छोड़ देना चाहिए।
गरुड़ पुराण में इस संबंध में एक श्लोक दिया हुआ है

कुचैलिनं दन्तमलोपधारिणं ब्रह्वाशिनं निष्ठुरवाक्यभाषिणम्।
सूर्योदये ह्यस्तमयेपि शायिनं विमुञ्चति श्रीरपि चक्रपाणिम्।।

loading...
Loading...
Loading...