ये 3 चीज़े यदि हो आपके साथ तो समझो माँ लक्ष्मी करेंगी आपके घर धन वर्षा

 

प्रत्येक दिन एक समान नहीं होता कुछ दिन किसी के लिए कुछ लोगों के लिए अच्छी खबर लेकर आते हैं तो कुछ लोगों के लिए बुरी खबर लेकर आते हैं, हिंदू शास्त्रों में ऐसे कई संकेतो का उल्लेख किया गया है जो कि आपके काम शिक्षा, प्रेम जीवन, विवाह धनादेश से संबंधित किसी भी आगामी खबर या परिवारों का सुख इच्छुक संकेत आपको दे सकते हैं। इन पर सिर्फ आपको ध्यान देने की आवश्यकता है शास्त्रों में सुझाव दिया गया है व्यक्ति के महत्व को किसी भी पुन कार्य को करने से पहले बहुत अधिक चौकस हो जाना चाहिए। क्योंकि यह कुछ ऐसा समय होता है जब विभिन्न संकेतों के माध्यम से दैवीय शक्तियां हमें संकेत भेजती है।

यदि आपको भी दिखे ये 7 सपने तो हो जाए सावधान टूटेगा दुखो का पहाड़

 

हिन्दू धर्म में गरुड़ पुराण को महत्तपूर्ण ग्रंथों में से एक माना जाता है। वैसे तो मृत्यु के बाद उसकी आत्‍मा की शांति के लिए गरुड़ पुराण का पाठ करवाया जाता है और इस पुराण को मृत्यु से भी जोड़ा जाता है।

1 जनवरी के दरवाजे पर लगा दे ये 1 चीज़ घर में कभी नहीं आएगा दुःख दर्द 2018 में

 

इस बार नयी साल सोमवार को है और सभी चाहते हैं किइस साल उनके घर सुख-समृद्धि और धन की कमी न हो. यदि आप भी चाहते हैं कि आपके घर पर मां लक्ष्मी की कृपा होने के साथ ही धन की वर्षा हो तो आप भी वास्तु के अनुसार कुछ चीजों को आजमाएं. यह उपाय आपके जीवन में प्रकाश ही प्रकाश लाएंगे. तो आईये जानते है

1 जनवरी सोमवार बड़ा दिन सिर्फ कच्चे चावल का ये चमत्कारी उपाय फिर देखे माँ लक्ष्मी की कृपा

 

चावल को अक्षत कहा जाता है। अक्षत का अर्थ होता है अखंडित। चावल को पूर्णता का प्रतीक और देवताओं का भोग माना गया है। हमारी श्रद्धा और भक्ति खंडित ना हो, सदैव बढ़ती जाए इसीलिए चावल भगवान को अर्पित किए जाते हैं। भारत में किसी को आशीर्वाद देते वक्त कहा जाता है- धन और धान्य से संपन्न हो। इसमें धान्य का अर्थ चावल ही होता है।

शनि का प्रिय पौधा घर के बाहर रखने पर कोई भी दुश्मन घर में कदम नहीं रख सकता

दोस्तों आपने आक का पौधा तो देखा ही होगा। इस पौधे को कहीं पर भी उगाया नहीं जाता है, बल्कि यह पौधा अपने आप ही उग जाता है। आपने देखा होगा कि इस पौधे पर नीले और सफेद रंग का फूल उगता है और यह पौधा जहरीला होता है। दोस्तों यह तो आपने भी सुना होगा कि भगवान शिव को इस पौधे का फूल चढ़ाने पर मनोकामनाएं पूरी होती है और यह पौधा हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बेहद ही लाभकारी है, तो आइए देखते हैं किस तरीके से यह हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।

कुष्ठ रोग के घाव में सहायक

दोस्तों इस पौधे की पत्तियों को पीसकर सरसों के तेल में मिला लें, फिर इसको कुष्ठ रोग के घाव पर लगाएं। ऐसा अगर आप नियमित रूप से करते हैं, तो आपका कुष्ठ रोग का घाव जल्द ही ठीक हो जाएगा।

अस्थमा, फेफड़ों के रोग और शरीर कमजोरी

दोस्तों पहले आप इनके फूलों को सुखा लें, फिर उसके बाद इनका एक चूर्ण बना लें। अगर आप इस चूर्ण का रोज सेवन करें, तो आपकी अस्थमा, फेफड़ों के रोग और शरीर कमजोरी दूर हो जाएगी।

एलर्जी या किसी भी प्रकार की खुजली की समस्या

दोस्तों अगर आपको एलर्जी या किसी भी प्रकार की खुजली की समस्या है, तो आप सबसे पहले इसकी जड़ को जला लें, फिर इससे जो राख बनेगी, इसको कड़वे तेल में मिला लें। इसके बाद इस मिश्रण को खुजली वाली जगह पर लगाएं। जल्द ही आपकी खुजली ठीक हो जाएगी।

शुगर कंट्रोल

दोस्तों रोजाना सुबह इस पौधे की पत्तियों को अपने पैरों के नीचे रखकर जुराब पहन ले और रात को सोने से पहले इनको निकाल दे। अगर आप रोजाना ऐसा करते हो, तो आपकी शुगर कंट्रोल हो जाएगी।

साल का अंतिम शनिवार आज शाम 1 दिया जिंदगी का बड़े से बड़ा दुःख खत्म हो जाएगा हमेसा के लिए

प्राचीन काल से हिन्दू धर्म में पूजा पाठ करते समय शंख की ध्वनि को शुभ माना जाता है ऐसा माना जाता है की शंख की ध्वनि हर बाधा को दूर करती है

अगर हम सुबह शाम पूजा पाठ करते समय शंख बजायेंगे तो इससे घर की नाकारात्मक ऊर्जा ख़त्म हो जायेगी घर की दरिद्रता भाग जायेगी. घरो में सुख शान्ति बनी रहती है. अगर हम किसी पुजारी को शंख दान करते है तो है इससे हमारे बिगड़े हुए काम बनते है व सकारात्मक ऊर्जा गृह में प्रवेश करती है और आस पास के लोगो से जो अन बन सी बनी रहती है वह भी ख़त्म हो जाती है.

यदि आप शंख में जल भरकर निम्न मन्त्र का जाप करके इस जल को पीने से हृदय और श्वाससंबधित रोगों से मुक्ति मिलती है। ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्राय नमः

शंख में जल भरकर “श्री सूक्त” का पाठ करके उस जल को दुकानए आफिस में छिड़कने से व्यापार में बढ़ौतरी होती है।दक्षिणामुखी एक विशेष प्रकार का दुर्लभ अद्भुत चमत्कारी शंख दाहिने तरफ खुलने की वजह से दक्षिणावर्ती शंख कहलाते हैं। इस प्रकार के शंख की उत्पत्ति समुद्र में होती है यह शंख चमत्कारी व अधिक मूल्यवान होता है इस प्रकार के शंख में माता लक्ष्मी निवास करती है अगर यह शंख किसी को मिल जाए तो उसे किसी भी प्रकार की हानि नहीं हो सकती और आपके घर धन बना रहता है.

अगर किसी को धन की बहुत आवश्यकता है तो अर्धचन्द्राकार आकार का विष्णु शंख ले आयेए इस शंख में भगवान विष्णु का वास होता है. अगर आपकी कुंडली में सूर्य का बुरा प्रभाव चल रहा है तो आप प्रत्येक रविवार को दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर सूर्य को जल अर्पित करे इससे आपके कष्टों का निवारण होगा व सूर्य का बुरा प्रभाव ख़त्म हो जाएगा.

31 दिसम्बर रविवार की शाम अगरबत्ती का ये उपाय 2018 में खुद माँ लक्ष्मी होंगी महेरबान आपके घर

 

अगर आप रोज पूजा करते हैं और आपका मन अशांत रहता है तो इसका मतलब है कि आप कि पूजा-पाठ में कहीं कुछ गलत हो रहा है. मन की शांति और जिस भी मनोकामना से पूजा की जा रही है, उसकी पूर्ति के लिए परे विधान से पूजा का किया जाना जरूरी है. यहां जानते हैं कि पूजा के दौरान किन बातों का ध्यान रखें और कुछ जरूरी नियमों का पालन कैसे करें…

2017 को अलविदा कहते समय चुपचाप बोले ये मंत्र फिर देखो 2018 में चमत्कार ही चमत्कार

 

सभी देवी-देवताओं में भगवान शिव को कल्याणकारी माना गया है। भगवान शिव अपने भक्तों पर आने वाले कष्टों का हरण कर लेते हैं। ‘ॐ नमः शिवाय’ एक ऐसा मंत्र है जिसके नाम मात्र से सभी बाधाएं खत्म हो जाती हैं। इसकी महिमा का गुणगान हमारे पुराणों में किया गया है।

प्रणव मंत्र ‘ॐ’ के साथ ‘नमः शिवाय’ (पंचाक्षर मंत्र) का मेल करने से षडक्षर मंत्र का निर्माण होता है इसलिए इसे षडक्षर मंत्र के नाम से भी जाना जाता है।

30 दिसंबर महा शनिवार सिर्फ एक रोटी का ये चमत्कारी उपाय सालो साल बरसेगा पैसा आपके घर

 

शनिवार के दिन शनिदेव और हनुमान जी की आराधना तो सभी करते हैं। यहां वर्णित है 4 ऐसे उपाय जो विशेष रूप से शनिवार को ही किए जाते हैं। इन प्रयोगों से किस्मत के सितारे दमकने लगते हैं।

30 दिसम्बर अंतिम शनिवार करे इनमे से कोई 1 उपाय,लक्ष्मी दौड़ी चली आएगी। आपके घर

शनिवार के दिन शनिदेव और हनुमान जी की आराधना तो सभी करते हैं। यहां वर्णित है 4 ऐसे उपाय जो विशेष रूप से शनिवार को ही किए जाते हैं। इन प्रयोगों से किस्मत के सितारे दमकने लगते हैं।