आमतौर पर कर्ज़ किसी भी चीज का हो फलदायी नहीं होता। अगर यह किसी भी व्यक्ति पर है तो उसका जीवन समझो दुष्वर है। देखा जाये तो अक्सर लोग पैसों के कर्ज से ही दबे चले जाते हैं और अब तक यही देखने को मिला है कि जिन लोगों के ऊपर थोड़ा-बहुत भी कर्ज़ होता है तो वह धीरे-धीरे बढ़ कर इतना ज्यादा बढ़ जाता है उनके लिए इसे उतार पाना काफी मुश्किल होता है। आज हम कर्ज से मुक्ति के लिए कुछ आसान से उपाये बताने जा रहे है जिन्हे करने के बाद जीवन में कर्ज जैसी कभी भी कोई समस्या नहीं आयेगी तो चलिए देखते है कौन से वह उपाये है जिन्हे करने के बाद कर्ज से मुक्ति मिलती है और जीवन में कर्ज का नाम ही मिट जाता है।
दोनों मुट्ठियों में काली राई लें। चौराहे पर पूर्व दिशा की ओर मुंह रखें तथा दाहिने हाथ की राई को बाईं ओर तथा बाएं हाथ की राई को दाहिनी दिशा में फेंक दें। राई फेंकने के पश्चात चौराहे पर सरसों का तेल डालकर दोमुखी दीपक जला देना चाहिए। दीया मिट्टी का रखना चाहिए। यह प्रयोग शुक्ल पक्ष के प्रथम शनिवार को संध्या के समय करें। श्रद्धा द्वारा किया गया यह उपाय अवश्य कर्ज से मुक्ति दिलाता है। एक बार सफलता न प्राप्त हो तो दोबारा फिर कर लेना चाहिए। यह उपाय शनिश्चरी अमावस्या को भी कर सकते हैं।
सर्वप्रथम 5 लाल गुलाब के पूर्ण खिले हुए फूल लें। इसके पश्चात् डेढ़ मीटर सफेद कपड़ा लेकर अपने सामने बिछा लें। अब इन पांचों गुलाब के फुलों को उसमें रखकर 21 बार गायत्री मंत्र पढ़ते हुए उसे बांध दें। अब स्वयं जाकर इन्हें जल में प्रवाहित कर दें। इस उपाय से जल्द ही कर्ज से मुक्ति मिल जाती है।
शनिवार के दिन सुबह स्नान करने के बाद अपनी लंबाई के बराबर काल धागा लेकर उसे एक नारियल के ऊपर लपेट लें। फिर अपनी नियमित पूजा के साथ इसका भी पूजन करें, पूजा के बाद इस नारियल को भगवान से ऋण मुक्ति के लिए प्रार्थना करते हुए बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। इस छोटे से उपाय से आपको अपनी मेहनत के श्रेष्ठ फल मिलने के योग बनेगे और आप के ऊपर शीघ्र ही कर्ज का भार कम होने लगेगा।
यदि व्यक्ति अपने घर के मंदिर में माँ लक्ष्मी की पूजा के साथ 21 हक़ीक पत्थरों की भी पूजा करें फिर उन्हें अपने घर में कहीं पर भी जमीन में गाड़ दे और ईश्वर से कर्जे से मुक्ति दिलाने के लिए प्रार्थना करें तो उसे शीघ्र ही कर्जे से छुटकारा मिल जायेगा।

loading...
Loading...
Loading...