1 जनवरी महा पर्व दिन न करे ये गलती वरना हमेशा रहेगी घर में गरीबी और बीमारी

 

1.लक्ष्मी का वास वहां माना जाता है.जहां स्वच्छता तथा सुगंध हो अत: रहने का स्थान तथा कार्य का स्थान स्वच्‍छ एवं सुगंधित हो ऐसा प्रयत्न करना चाहिए.नए साल के पहले दिन घर को स्वच्छ करें.

600 साल बाद महा संयोग खुश हुए हैं राहु और केतु, इन 5 राशि वालों को 2018 में करेंगे मालामाल

 

मेष- सौभाग्य की प्राप्ति, कर्मक्षेत्र में तरक्की और लाभ के चांस।

वृष- दुर्घटना होने के योग, शारीरिक नुकसान और दांपत्य संबंधों में निरसता।

मिथुन- दांपत्य में कलेश, वजन का बढ़ना और पार्टनरशिप का टूटना।

पूजा के समय भूल से भी ना रखे ये जमीन में 4 चीज़ वरना पूजा का नहीं मिलेगा कोई फल

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे न्यूज चैनल में। आज हम आपको ऐसी 5 उपाय बताऐंगे जिससे आप केवल अमीर ही नहीं बल्कि आपकी सारी समस्याओं का समाधान भी निकल जायेगा।

Google
  • उपाय 1

भोजन करते समय पहला निवाला भगवान क नाम से निकल ले तथा उस भोजन को हाथ जोड़कर नमन करें आपने मुझे भोजन दिया और मेरे साथ-साथ जो मनुष्य भोजन से वंचित है उसे भी भोजन प्रदान करें और निकाले हुए निवाले को सखफ सूथरे स्थान पर रखें उसको फेके नहीं।

Google
  • उपाय 2

अगर आपके घर के आस-पास कैले का पैड़ है तो पैड़ के जड़ में पूजा करने के पशचात एक लौटा शूध जल चढाएँ ऐसा नियमित कर और पैड़ के पास बैठकर कम से कम 5 मीनट भगवान विष्णु से प्रार्थना करें जो भी आपके मंन में है वह इच्छा भगवान विष्णु के समक्ष रख दे।

  • उपाय 3

आमतौर पर हम बातों-बातों में झूठे कसमें खाया करते है हमें ये नहीं मालूम की ये झूठे कसमें खाने से हमारे प्रगति में बहुत बडी रोकावट आती हैं इसलिए हमें झूठी कसमें नहीं खानी चाहिए।

  • उपाय 4

खास तौर पर हम या घर की औरतें रात को झारों लगाती हैं और कचडे को बाहर फेंक देती है ऐसा करना अशुभ माना जाता हैं इसलिए शुभ कारण रात को कभी भी झारों ना लगाएँ अगर घर में अधिक कंदगी हो जाए तो कपडें से साफ करके पोछा लगा ले लेना चाहिए।

  • उपाय 5

अब हम आप सबको सबसे जरूरी सफल उपाय बताने जा रहे है आप एक कच्चा हल्दी जो टूटा ना हो वहीं सूरजढलने के बाद गंगाजल जल से उसे दोह कर साफ कर ले उसके बाद स्वम स्नान करने के बाद साफ सूथरा वस्त्रपहन कर उस हल्दी को पीले कपडें मे बाँधकर और भगवान विष्णु के चरणों में रखे और फिर थूप अगरबत्तीदिखाएं और हाथ जोड़कर भगवान विष्णु से प्रार्थना करें।

इन 3 लोगो का जन्म होता ही अमीर बनने के लिए है जिस किसी के शरीर में होता है ये निशान

अपने जीवन में हर एक इंसान अपनी किस्मत की बदनसीबि को लेकर परेशान होता है वह कुछ भी काम करता है उसका हमेशा उल्टा ही होता है। बनते हुए काम बिगड़ जाते हैं और जब इंसान के साथ ऐसा होने लगता है। तो वह अपनी किस्मत को कोशने लगता है। हो सकता है कि ऐसी समस्या आपके साथ भी हो सकती है। अगर आप भी कुछ इसी प्रकार कि समस्या से परेशान हैं तो यहां पर आज हम आपको इसी समस्या के समाधान संबधित कुछ उपाये बताने जा रहे हैं। इन उपायों को करने के बाद आपकी किस्मत के बंद दरवाजे खुल जाएंगे। जी हां दरअसल यहां पर हम जो आपको उपाये बता रहे हैं। वह लौंग के उपाये हैं।

1. किसी भी जरूरी काम की शुरूआत में एक नींबू लें उसमें 4 लौंग गाड़ दें और ॐ श्री हनुमते नम: मंत्र का 21 बार जाप करके उस नींबू को घुमाकर पश्चिम दिशा की तरफ श्रीराम का नाम लेते हुए फेंक दें।

2. मन में या घर में अगर ज्यादा झगडे होते हों या नकारात्मकता ज्यादा हावी रहती हो तो जातक सुबह के देसी कपूर के साथ एक जोड़ी लौंग नियमित जलाए तो लाभ मिलता है।

3. किसी भी काम को सौ फीसद सफल बनाने के लिए घर में दाई ओर मुडी हुई सूंड के गणेशजी का चित्र लगाएं, इसके आगे लौंग तथा सुपारी रखें और इसकी पूजा करें। काम पर जाते समय उसमें से एक लौंग को अपने साथ ले जाएं। आपका काम कभी रुक नहीं पाएगा।

4. आकस्मिक धन लाभ और रुका हुआ पैसा पाने के लिए कच्ची घानी के तेल में दो लौंग डालकर हनुमानजी की पूजा करें आपको ना केवल जबरदस्त धनलाभ होगा बल्कि आत्मरविश्वाूस में भी बढोतरी होगी।

इस दिशा में सोये पैर रख बढ़ेगी आपकी उम्र साथ ही आपके घर की लक्ष्मी

फेंग शुई का एक सिद्धांत है, कि जहां समस्या है वहां उसका समाधान भी है। वास्तु शास्त्र के सिद्धांत पूर्णतः वैज्ञानिक आधार पर बने हैं। इस बात की पुष्टि हम कुछ वास्तु सिद्धांतों के विश्लेषण से कर सकते हैं।

– सोते समय सिर दक्षिण में: मनुष्य का सिर उत्तरी ध्रुव और पैर दक्षिण ध्रुव में होने से दोनों में विकर्षण पैदा होगा परिणामस्वरूप मनुष्य के शरीर में रक्त प्रवाह और नींद में बाधा पैदा होने से तनाव उत्पन्न होगा। इसी कारण वास्तु शास्त्र के अनुसार अच्छे स्वास्थ्य के लिए सोते समय सिर दक्षिण में व पैर उत्तर दिशा की ओर होने चाहिए।

– पूर्व दिशा में आंगन: घर का आंगन पूर्व दिशा में बनाना चाहिए। ताकि सूर्य की जीवनदायी प्रातः कालीन किरणों का अधिक से अधिक लाभ आपको मिल सके, और प्रातः काल धूप स्नान किया जा सके।

– दीवारें ऊंची व मोटी होनी चाहिए: प्रातः कालीन सूर्य की किरणें तो लाभदायक होती हैं परंतु दोपहर के समय जब सूर्य पश्चिम दिशा में ज्यादा तेज गर्मी फैला रहा होता है तब उस समय सूर्य की किरणें हानिकारण होती है। उन हानिकारक किरणों के संपर्क में हम कम से आएं, इस कारण वास्तुशास्त्र में दक्षिण-पश्चिम दिशा में ऊंची व मोटी दीवार बनाने की सलाह दी जाती है।

– पूर्व दिशा में पेड़: घर के पूर्व एवं ईशान दिशा में बड़ी शाखा एवं मोटी पत्तियों वाले बड़े पेड़ को नहीं लगाना चाहिए। यह पेड़ प्रातःकालीन सूर्य की सकारात्मक किरणों को घर में प्रवेश करने में रुकावट पैदा करते हैं।

– ईशान कोण में पानी: ईशान कोण में स्थित पानी के स्त्रोत पर पड़ने वाली प्रातःकालीन सूर्य की किरणें पानी में पैदा होने वाले हानिकारक वैक्टीरिया और कीटाणुओं आदि को नष्ट करती हैं। विज्ञान ने भी स्वीकार किया है कि सूर्य की किरणों में यह शक्ति होती है।

1 जनवरी को करे ये काम दोगुनी रफ्तार से बढ़ेगी तरक्की और घर रखा पैसा

नव वर्ष आने में कुछ दिन शेष बचे हैं. उसका स्वागत करने के लिए आज से आरंभ करें कुछ तैयारी, जिससे पूरा साल मीठे पलों के साथ व्यतित होगा. सुबह का आरंभ अच्छा हो तो सारा दिन शुभता के साथ व्यतित होता है. ठीक वैसे साल के पहले दिन को शुभ बनाएं. यदि नए साल, पहली जनवरी या नए विक्रमी संवत्, इस साल -18 मार्च, पर बैंक में नया खाता खोला जाए या पुराने खाते में धन जमा कराया जाए तो धन में निरंतर वृद्धि होती है. इस दिन किया गया कोई भी नया निवेश कई गुणा बढ़ जाता है. आप नई बीमा पॉलिसी, म्यूचुअल फंड, सोने आदि में पहले दिन धन लगा सकते हैं.

-इसके अलावा बैंक या घर के लॉकर में, लाल या पीले कपड़े में 12 साबुत बादाम बांध कर रख दिए जाएं तो भी आभूषणों में वृद्धि होती रहती है और उसमें कभी कमी नहीं आती. ये काफी समय से प्रमाणित प्रयोग हैं जो भारतीय परंपरा, आस्था एवं ज्योतिष का एक भाग हैं. इस दिन लोन एकाऊंट में पैसा न लौटाएं, न किसी को उधार दें और न किसी से लें.

किसी जरूरतमंद या गरीब व्यक्ति को सवा पांच किलो गेहूं दें.

नंदी यानी बैल और गाय माता को घास या रोटी खिलाएं.

साल का पहला दिन 1 जनवरी सोमवार से आरंभ हो रहा है. ये दिन भोले बाबा को समर्पित है. सुबह मंदिर जाएं पंचामृत से शिवलिंग का अभिषेक करें. जल चढ़ाते समय इन मंत्रों का जाप करें.

ऊँ महादेवाय नम:

ऊँ रुद्राय नम:

ऊँ नम: शिवाय

30 दिसम्बर बड़ा शनिवार सिर्फ एक दीपक मिट जाएगा गरीबी का नामो निशान आपके घर

 

पूजा करते समय दीपक प्रज्वलित करना बहुत ही शुभ होता हैं. दीपक को रौशनी का, उजाले का तथा प्रकाश का प्रतीक माना जाता हैं. दीपक को मनुष्य जीवन के आर्थिक और शारीरिक कष्टों को दूर करने के लिए भी शुभ माना जाता हैं.

माना जाता है दीपक प्रज्वलित करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकलती है, लेकिन दीपक के साथ भिन्न-भिन्न तरीके के उपयोग आपकी किस मनोकामना को पूरा कर सकते हैं,

1 जनवरी 2018 की सुबह एक लोटा पानी का ये महा उपाय खुल जायेगे धन के सारे रास्ते

 

नव वर्ष आने में कुछ दिन शेष बचे हैं. उसका स्वागत करने के लिए आज से आरंभ करें कुछ तैयारी, जिससे पूरा साल मीठे पलों के साथ व्यतित होगा. सुबह का आरंभ अच्छा हो तो सारा दिन शुभता के साथ व्यतित होता है. ठीक वैसे साल के पहले दिन को शुभ बनाएं. यदि नए साल, पहली जनवरी या नए विक्रमी संवत्, इस साल -18 मार्च, पर बैंक में नया खाता खोला जाए या पुराने खाते में धन जमा कराया जाए तो धन में निरंतर वृद्धि होती है.

29 दिसम्बर विशेष दिन साल की अंतिम एकादशी सिर्फ 2 लौंग फिर देखो रातोरात चमत्कार

 

इस युग में हर कोई बिना मेहनत करे अमीर बनना चाहता है। लेकिन कई बार इंसान अपनी जिंदगी में मेहनत करने के बाद भी अच्छा पैसा नहीं कमा पता है। या किसी कारण से पैैसे आते भी हैं तो रूक नहीं आ पाते है ऐसे में हम लोग उदास हो जाते हैं और या तो किसी-किसी को उल्टा बोलते है कमीया निकालते हैं।

अपनी किस्मत को बार-बार दोष भी देते हैं। लेकिन हम यह नहीं जानते हैै कि कई बार हमारे उपर दोष होते हैं जिसके कारण कई बार हमारे पास पैसा होने के बावजूद भी हमारे हाथ में टीक नहीं पाता है। और आकार एकदम से उड भी जाता है। ऐसे में लोग इन दोषो को खत्म करने के चकार में तरह-तरह के टोटको के उपाय भी किये जाते हैं।

29 दिसम्बर पुत्रदा एकादशी बड़ा महासयोंग इन 6 राशि वालो पर बना करोड़पति का योग

 

आज का विशेष उपाय: कष्टों से बचने हेतु लक्ष्मी मंदिर में दही का दान करें।

मेष: महत्वपूर्ण काम बिगड़ेंगे। मानसिक उदासी और खिन्नता रहेगी। कार्यों में रुकावटें आएंगी। उत्साह भंग होगा। स्वास्थ्य भी नरम रहेगा।

वृष: उत्साहवर्धक समाचार मिलेंगे। कारोबार में वृद्धि होगी। कार्यक्षेत्र में तरकीबें सफल होंगी। धन लाभ होगा। अकस्मात व्यय से परेशानी होगी।