कभी कभी हमारे शरीर के अंग फड़कने लगते हैं लेकिन हमे ये नहीं पता होता कि उनके फडकने के पीछे क्या वजह होती है या वो क्यों फाड़ते हैं. शास्त्रों में बताया गया है कि हमारे शरीर के अंगों के फड़कने का का मतलब होता है. आपको बता दें कि शरीर के अंगों के फडकने से आप ये पता लगा सकते हैं कि आपके साथ क्या घटना होने वाली है. शरीर के कुछ अंगों का फड़कना बहुत शुभ होता है. शरीर के अंगों का फड़कना शुभ संकेत देता है. आज हम आपको बताएंगे कि शरीर के किस अंग के फड़कने से क्या होता है.

गर्दन का फड़कना ये संकेत देता है कि आपके जीवन में ख़ुशहाली और संपन्नता आने वाली है. अगर आप अविवाहित पुरुष है तो इसका मतलब होता है कि आपके विवाह के योग बन रहे हैं.

दाहिना कंधा

अगर आपका दाहिना कंधा फड़के तो समझ लेना कि आपको जल्दी ही अधिकार कि प्राप्ति होगी और आपका साहस भी बढेगा.
बायां कंधा
अगर आपका बायां कंधा फड़के तो समझ लो कि जल्द ही आपकी कोई मनोकामना पूरी होने वाली है.

दोनों कंधे

अगर आपके दोनों कंधे एक साथ फड़कें तो समझ लेना चाहिए कि आपका किसी से झगड़ा होने वाला है.

loading...
Loading...
Loading...