आज की एकादशी पर घर में शाम करे ये काम भगवान विष्णु संग माँ लक्ष्मी का होगा वास

आषाढ़ शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी कहते हैं। इस बार यह एकादशी 23 जुलाई यानी सोमवार को है। शास्त्रों के के अनुसार, देवशयनी एकादशी से चातुर्मास का आरंभ हो जाता है और सभी मांगलिक कार्य चार महीने के लिए रुक जाते हैं। इस एकादशी का सभी एकादशियों में बड़ा धार्मिक महत्व है, जो भक्त सच्चे मन से भगवान की पूजा करते हैे, उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। देवशयनी एकादशी के दिन शास्त्रों में बताए गए इन 7 कामों को करना बहुत ही शुभ फलदायी माना गया है। इनसे पुण्य और वैभव की प्राप्ति अगले जन्म में भी मिलता है।

1/7भगवान को नए वस्त्र पहनाएं

पुराणों में कथा है कि इस दिन से भगवान विष्णु चार महीने के लिए सोने चले जाते हैं इसलिए इसे देवशयनी कहा जाता है। इसलिए भगवान को नए वस्त्र पहनाने चाहिए। क्योंकि इस दिन के बाद भगवान 4 महीने के लिए सो जाते हैं और शयन अवस्था में ही इनकी पूजा होती है।

2/7भगवान को नए बिस्तर पर सुलाएं

वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

भगवान विष्णु की पूजा करके उन्हें नए बिस्तर पर सुलाना चाहिए। इससे भगवान बहुत प्रसन्न होते हैं और वह आपकी हर मनोकामना पूरी करते हैं।

3/7ऐसे करें पूजा

विष्णु भगवान विष्णु शयन के लिए चले जाते हैं तो उनकी पूजा भी इस दिन खास होती है। इस दिन सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि कार्यों से निवृत होकर भगवान विष्णु का ध्यान करें। भगवान के सामने देसी घी का दीपक जलाना ना भूलें और जाने-अनजाने जो भी पाप हुए हैं उससे मुक्ति पाने के लिए प्रार्थना करें।

4/7रात्रि में जागरण करें

पुराणों के अनुसार देवशयनी एकादशी का व्रत जो भी भक्त सच्चे मन से रखता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। भगवान की सेवा करें, गाय को चारा दें और रात्रि जागरण करें। अगर ऐसा ना कर पाएं तो भूमि पर बिस्तर बिछाकर जरूर सोएं।

5/7विष्णु सहस्रनाम का करें पाठ

एकादशी के दिन विष्णु सहस्रनाम का पाठ जरूर करना चाहिए। इससे कई जन्मों के पाप कटित होते हैं और मृत्यु के बाद उत्तम लोक की प्राप्ति होती है।

6/7तुलसी के पत्ते ना तोड़ें

शास्‍त्रों में तुलसी को पूजनीय, पवित्र और देवी के समान माना जाता है। एकादशी के दिन तुलसी पत्ता तोड़ना शास्त्रों में पाप माना गया है। माना जाता है कि व‍िष्‍णु भक्‍त होने की वजह से एकादशी को तुलसी उनकी भक्‍त‍ि में लीन रहती हैं।

7/7गाय को खिलाएं लड्डू

एकादशी के दिन काली गया को बेसन के लड्डू खिलाना चाहिए। भगवान विष्णु की पूजा में प्रसाद रूप में भी इनका प्रयोग करें। ऐसा करने से आपके व्यवसाय या नौकरी में उन्नति होती है। इससे आपके परिवार पर भी कोई कष्ट नहीं आता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *