11 अगस्त साल तीसरा सबसे बड़ा सूर्ग्रहण इन 3 राशियों पर टूटेगा दुःखो का पहाड़//11 august surya grahan

दोस्तों 11 अगस्त 2018 को फिर से एक बार सूर्य ग्रहण लगने वाला है। यह साल का तीसरा और आखिरी सूर्यग्रहण होगा। यह ग्रहण सावन महीने में शनिवार के दिन अमावस्या को होगा। अश्लेषा नक्षत्र और कर्क राशि में लगने वाला यह ग्रहण खंड सूर्य ग्रहण होगा।

इस सूर्य ग्रहण का दुष्प्रभाव कर्क, मिथुन और सिंह राशि पर होगा। जबकि इस ग्रहण के शुभ प्रभाव की बात करें तो मेष, मकर, तुला और कुंभ राशि पर शुभ प्रभाव होगा। इस बात को लेकर ज्यादातर गर्भवती महिलाएं या परिवार के लोग परेशान होंगे कि इस सूर्य ग्रहण का प्रभाव उन पर किस तरह पड़ेगा। तो बता दें कि भारत में यह सूर्य ग्रहण बिल्कुल भी नहीं दिखाई देगा। भारत में इसका कोई भी प्रभाव नहीं होगा।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करे

ग्रहण जहां नहीं दिखाई देता है वहां इसका कोई प्रभाव नहीं होता है। साथ ही सूतक काल और पर्व काल मानने की भी आवश्यकता नहीं होती है। यदि गर्भवती महिलाएं भारत में निवासरत हैं तो उन्हें इस ग्रहण से जुड़े किसी भी नियम के पालन करने की आवश्यकता नहीं है।

सूर्य ग्रहण का सूतक ग्रहण लगने के 12 घंटे पहले प्रारंभ हो जाएगा जबकि चंद्रग्रहण का सूतक 9 घंटे पूर्व लगता है। भारतीय मानक समय के अनुसार दिन में दोपहर 1:00 बज कर 32 मिनट से सूर्य ग्रहण शुरू होगा। इसका मध्य काल 3:00 बज कर 16 मिनट पर होगा और यह शाम को 5:00 बज कर 1:00 मिनट पर समाप्त हो जाएगा।

इन बातों का रखें ख्याल

ग्रहण से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने पेट के ऊपर गोबर या गेरू लगाना चाहिए, इससे ग्रहण का दुष्प्रभाव नहीं होता है।
इस दौरान गर्भवती महिलाओं को तुलसी का पत्ता या कुशा अपने साथ रखें।
इस काल में महिलाओं को बाहर खुले मैदान में भी नहीं निकलना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *