घर में हो ये 2 मूर्ति तो आज ही हटाए चाह कर भी आप कभी न बन पाएंगे अमीर

हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है कि मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति ईश्वर के आशीर्वाद से ही हो सकती है. अगर भगवान की कृपा पूरे घर पर ही रहे तो इससे अच्छी क्या बात हो सकती है, इसीलिए हर घर में पूजा घर की स्थापना की जाती है जिससे ईश्वर की प्रतिदिन आराधना कर उन्हें प्रसन्न किया जा सके. लेकिन पूजा घर में कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है. आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ बातें…

घर के मंदिर में कुछ मूर्तियों को नहीं रखना चाहिए. इन्हें रखने से घर में सुख समृद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव कम होता जाता है.

सूर्य पुत्र शनि देव की मूर्ति को भी घर के मंदिर में नहीं रखना चाहिए. शनि देव की उपासना करते हैं तो घर के बाहर किसी मंदिर में ही करें.

घर में भगवान की पीठ दिखाती हुई मूर्ति या चित्र नहीं रखना चाहिए. इसे अशुभ माना जाता है और इससे घर में रहने वालों के लिए दुर्भाग्य आता है.

घर में भगवान की युद्ध करते हुए या राक्षस को मारते हुए दिखाने वाली मूर्ति या तस्वीर नहीं रखनी चाहिए. इसे भी रौद्र स्वरूप ही माना चाहता है. इसके दर्शन करने से घर में संकट आता है.

घर में खंडित मूर्ति या भगवान का फटा हुआ चित्र नहीं रखना चाहिए. वास्तु व ज्योतिष दोनों के हिसाब से ही यह अशुभ हैं.

पूजा स्थल में एक ही भगवान की दो मूर्तियां नहीं रखनी चाहिए. एक ही भगवान की दो मूर्तियां आस-पास तो बिल्कुल नहीं रखनी चाहिए. ऐसा होने पर उस घर में कलह होती है.

भगवान शिव का अवतार माने गए भैरव देव की मूर्ति घर में नहीं लानी चाहिए. भैरव भगवान शिव का ही अवतार माने जाते हैं लेकिन भैरव देव तंत्र विधा के देवता हैं और इनकी उपासना घर के भीतर ना होकर बाहर ही करनी चाहिए.

अगर आपको भी पूजा करते समय आती हैं ये 4 बातें तो नहीं मिलता फल

https://youtu.be/S-s39snD1KE

30 नवंबर बड़ा शुक्रवार घर में चुप चाप यहाँ छिपा दें एक लौंग फिर देखें चमत्कार

https://youtu.be/1FOXHpoGcXg

बुध कर रहे मूल नक्षत्र को पार, इन 4 राशियों पर 4 महीने तक जमकर बरसेगा पैसा

सबसे पहले हम बात करेंगे आज के विशेष उपाय:की दोस्तों आज का विशेष उपाय: आनंद प्राप्ति के लिए देवी मंदिर में ईलायची चढ़ाकर सेवन करें।

मेष: ऑफिस में मंदगति से काम होगा। स्टुडैंट्स का पढ़ाई से ध्यान हटेगा। प्रॉपर्टी से लाभ होगा। असरदार-अनुभवी लोगों से लाभ मिलेगा।

वृष: इनवैस्टमैंट कि टैंशन खत्म होगी। लोगों से कॉन्टेक्ट बढ़ेगा। डेली रूटीन का पूरा प्रोग्राम व्यवस्थित होगा। सभी इच्छाएं पूरी होंगी।

मिथुन: बातचीत में सावधानी बरतें अन्यथा लोगों से कहासुनी होगी। यंगस्टर्स को टीमवर्क से लाभ होगा। सहकर्मियों को विश्वास में लेंगे।

जब जिंदगी में बहुत ज्यादा आप हो परेशान तभी करे इस तरह से प्राथना सेकेण्ड में दिखेगा चमत्कार

मुश्किल घड़ी में लोग अक्सर भगवान के पास जाते हैं और उनसे प्रार्थना करते हैं। माना जाता है कि भगवान से प्रार्थना करने पर सारी मुश्किलें चली जाएगी। हालांकि प्रार्थना मुश्किल घड़ी में असरदार साबित होती है, लेकिन वो भगवान की वजह से नहीं बल्कि आपकी खुद की वजह से…जानिए कैसे

प्रार्थना करने से व्यक्ति की उदासी का स्तर कम होता है। साथ भावनात्मक रूप से भी मजबूत होता है। जो भी व्यक्ति सप्ताह में कम से कम एक बार प्रार्थना करता है वो अपने गुस्से और नकारात्मक स्थिति आदि को संभाल लेते हैं।

दरसअल जब किसी का मूड बेहद खराब होता है और वो इसका गुस्सा अपने किसी नजदीकी पर निकालता है तो इससे हिंसा और भी बढ़ जाती है। जबकि भगवान के सामने चिल्ला कर उनसे बात करने पर बिना किसी हिंसा के मन का बोझ हल्‍का हो जाता है। इसी वजह से प्रार्थना करने से भावनात्मक कष्टों से राहत पाने में मदद मिलती है।

वैसे भगवान से बात करने की जो क्रिया एक सजीव संपर्क की तरह ही है। किसी व्यक्ति की कल्पना करके आप बात नहीं कर सकते है, लेकिन ईश्वर हमारे सामने है इसकी कल्पना मात्र से ही उनसे आसानी से बात कर सकते हैं। इसके विपरीत यह सही है कि भगवान में विश्वास नहीं है तो प्रार्थनाओं का प्रभाव न होता। उनके लिए ईश्वर की सत्ता वास्तविक है।

आइये दोस्तों जानते है कैसे आप भगवान को प्रस्सन कर उनका आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हो और अपनी परेशानी से निजात पा सकते हो. दोस्तों यह उपाय आपको किसी भी पुष्य नक्षत्र के रविवार को सफेद आक की जड़ लाकर करना है उससे आप भगवान गणेश की प्रतिमा बनाएं। लाल कनेर के फूलों के साथ चंदन और दूब का प्रयोग करते हुए विधिवत उनकी पूजा करें। इसके पश्चात् उसी प्रतिमा के सामने कुश के आसन पर बैठकर गणेश जी के बीज मंत्र “ॐ गं नम:” का 108 बार जाप करें तथा अपनी मनोकामना बोले शीघ्र आपकी मनोकामना पूर्ण होगी.

शुक्र ने बदला घर, 20 दिसम्बर से पहले ये 4 राशि को होगा बड़ा नुक्सान

ग्रह नक्षत्रों का असर हमारी जिंदगी को प्रभावित करता है। वहीं उनकी चाल परिवर्तन होने का असर भी हमारे ऊपर पड़ता है। हर ग्रह की अपनी एक अलग खासियत होती है। शुक्र ग्रह को प्रेम और सुख सुविधाओं का कारक मान गया है और इस ग्रह ने राशि बदलकर वृश्चिक रा‌शि में प्रवेश कर लिया है, जो 20 दिसंबर की शाम तक रहेगा।

वृष राशिः

वृश्चिक राशि में शुक्र के ग्रह के आने के कारण पति पत्नी के बीच के संबंध मधुर बनेंगे और प्रेम संबन्धों में भी मजबूती आएगी। व्यावसायिक तौर पर आप अपने व्यावसाय को बढ़ा भी सकते हैं, परंतु अभी इसका कोई वित्तीय लाभ नही होगा। मगर साथ ही तुला में बृहस्पति के प्रभाव से आपको अपनी अनदेखी के कारण वित्तीय घाटे का सामना करना पड़ सकता है। बेकार की चिंता करना आपकी सेहत के लिए सही नहीं है, इसलिए इधर-उधर की बातों में ज्यादा ध्यान न दें।

कर्क राशिः

शुक्र के वृश्चिक में प्रभाव के चलते आपके लिए प्रेम संबंधों में निखार के योग हैं। नया व्यावसाय या कार्य शुरू कर सकते हैं। विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के नए अवसर मिल सकते हैं। वित्तीय स्थिति सामान्य रहेगी। मगर साथ ही तुला राशि में बृहस्पति के प्रभाव के कारण आपकी प्रतिष्ठा दांव पर लग सकती है, इसलिए ध्यान देने की आवश्यकता है। आपको अप्रत्याशित हानि का सामना करना पड़ सकता है, जिससे आपकी वित्तीय स्थिति बिगड़ सकती है।

तुला राशि:

तुला राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह वित्तीय रुप से अच्छा रह सकता है। आपके लिए धन लाभ के योग भी बन रहे हैं। व्यावसायिक स्तर पर आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे। वृश्चिक राशि में शुक्र के प्रभाव के कारण आपको नाम और शौहरत की प्राप्ति हो सकती है और व्यावसायिक रूप से वक्त में सुधार आएगा। आपकी राशि में बृहस्पति के प्रभाव से आपको भाग्य का साथ मिलेगा, घर में किसी नए सदस्य के आगमन के योग बन रहे हैं।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों को इस सप्ताह भाग्य का साथ मिलेगा, जिसमें नौकरी में पदोन्नति और वेतनवृद्धि के योग हैं। साथ ही कार्यक्षेत्र पर आपके कार्यों की सराहना भी हो सकती है। वित्तीय लाभ के भी योग हैं। सेहत अच्छी रहेगी और निजी जीवन सुखमय गुजरेगा। वृश्चिक राशि में शुक्र के प्रभाव से आपको अपनी मेहनत का फल मिल सकता है। नौकरी करने वालों को नई और बेहतर नौकरी के अवसर मिल सकते हैं। वित्तीय स्थिति अच्छी रहेगीं।

घर में गलती से भी ना लगाएं ऐसे मोनेपलांट अन्यथा आती है बर्बादी

ज्यादातर लोग अपने घर और ऑफिस में मनी प्लांट का पौधा लगाते हैं। माना जाता है कि इस पौधे को लगाने से आर्थिक स्थिति अच्छी रहती है। कई बार इस पौधे ‌को लगाने के बाद आर्थिक स्थिति में कोई सुधार तो नहीं होता, लेकिन स्थिति और भी ज्यादा बिगड़ने लगती है। इसका कारण मनी प्लांट के पौधे को वास्तुशास्‍त्र के अनुसार न लगाना भी होता है।

वास्तुशास्‍त्र के अनुसार हर पौधे के लिए एक दिशा निर्धारित है। अगर उस पौधे को उसकी दिशा के अनुसार रखते हैं तो व्यक्ति के आस पास का माहौल सकारात्मक रहता है। वहीं गलत दिशा के रखने पर लाभ होने की बजाय नुकसान होने लगता है।

शिवलिंग पूजा में न करे ये एक गलती वरना पूजा होगी आपकी व्यर्थ

गवान शिव की मूर्ति के साथ-साथ उनके शिवलिंग की पूजा की जाती है। जिस प्रकार से शिव की पूजा व व्रत में कई प्रकार की सावधानियां बरती जाती हैं,उसी तरह से शिवलिंग पर पूजा करते समय भी कई बातों का ध्यान रखना होता और खास कर सावन के महीने में ध्यान से पूजा करनी चाहिए क्योंकि सावन भगवान शिव को बेहद ही प्रिय है।

अक्सर देखा गया है मंदिरों में लोग सीधे जल लेकर जाते हैं और बिना नियम जाने अपने तरीके से पूजा करना शुरू कर देते हैं ऐसे में ये गलतियां उस मनुष्य को बहुत भारी पड़ सकती है और वो पाप का भागीदार बन सकता हैं।

इस दुनिया का कोई भी इंसान नहीं जानता ये सबसे बड़ा रहस्य

सदियों से विभिन्न धार्मिक ग्रंथ विज्ञान को चुनौती देते आ रहे हैं। ग्रंथों में लिखे तथ्य आज भी लोगों को चौंका देते हैं। आज हम आपको ऐसा ही एक तथ्य के बारे में बताने जा रहे हैं, जो की धर्म ग्रंथों की महिमा के बारे में बताता है…

https://youtu.be/9_c7RhCcvkA

आज बड़ा मंगलवार घी का दीपक शाम को जला दे इस तरह चारो तरफ से आएगा पैसा

मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी की पूजा का महत्व है। ऐसा कहते हैं कि उनका जन्म मंगलवार के दिन हुआ था। शनिदेव को उन्होंने युद्ध में हराया था और शनि ने इनको वचन दिया था कि जो व्यक्ति शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करेगा उसे शनि का कष्ट नहीं होगा। तुरंत फलदायक है हनुमान जी की पूजा, बरतें सावधानी