आज मंगलवार की रात ये 4 अक्षर का नाम लिखे हनुमान मंदिर में घर जाते ही देखे चमत्कार

दोस्तों आज में आपको एक ऐसा उपाय बताने जा रही हु जिसे करने मात्र से आपकी सभी परेशानिया चुटकियो में हमेशा के लिए खत्म हो जाएँगी दोस्तों हनुमानजी मंगलवार के देव माने जाते हैं। हनुमानजी की पूजा सबसे जल्दी मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली मानी गई है। इस दिन हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए विशेष उपाय करे तो कुछ ही समय में आपकी किस्मत बदल सकती है। ये खास उपाय आपकी हर मनोकामना पूरी कर सकते हैं और सभी कष्टों का निवारण कर सकते हैं। पर कुछ ऐसी बातें है जो कहते है मंगलवार के दिन नहीं करना चाहिए।

मंगलवार की सुबह स्नान करने के बाद बड़ के पेड़ का एक पत्ता तोड़ें और इसे साफ पानी से धो लें। अब इस पत्ते को कुछ देर हनुमानजी के सामने रखें। इसके बाद इस पर केसर से श्रीराम लिखें। अब इस पत्ते को अपने पर्स में रख लें। ऐसा माना जाता है कि इससे पर्स में पैसे बने रहते हैं।

यदि कोई व्यक्ति पैसों की तंगी का सामना करना रहा है तो उसे प्रति मंगलवार और शनिवार को पीपल के 11 पत्तों का यह उपाय अपनाना चाहिए।

मंगलवार और शनिवार को पीपल के 11 पत्तों का यह उपाय अपनाना चाहिए। मंगलवार और शनिवार को ब्रह्म मुहूर्त में उठें। इसके बाद नित्य कर्मों से निवृत्त होकर किसी पीपल के पेड़ से 11 पत्ते तोड़ लें। ध्यान रखें पत्ते पूरे होने चाहिए, कहीं से टूटे या खंडित नहीं होने चाहिए।

इन 11 पत्तों पर स्वच्छ जल में कुमकुम या अष्टगंध या चंदन मिलाकर इससे श्रीराम का नाम लिखें। नाम लिखते समय हनुमान चालीसा का पाठ करें। जब सभी पत्तों पर श्रीराम नाम लिख लें, उसके बाद राम नाम लिखे हुए इन पत्तों की एक माला बनाएं। इस माला को किसी भी हनुमानजी के मंदिर जाकर वहां बजरंगबली को अर्पित करें। इस प्रकार यह उपाय करते रहें। कुछ समय में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे।

आज बड़ा मंगलवार घी का दीपक शाम को जला दे इस तरह चारो तरफ से आएगा पैसा

मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी की पूजा का महत्व है। ऐसा कहते हैं कि उनका जन्म मंगलवार के दिन हुआ था। शनिदेव को उन्होंने युद्ध में हराया था और शनि ने इनको वचन दिया था कि जो व्यक्ति शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करेगा उसे शनि का कष्ट नहीं होगा। तुरंत फलदायक है हनुमान जी की पूजा, बरतें सावधानी

मंगलवार का महा टोटका कपूर के साथ जला दे ये एक चीज रोडपति भी बने करोड़पति

आज मंगलवार दि॰ 28.11.17 को मार्गशीर्ष शुक्ल दशमी को भगवान विष्णु के दशावतार का पूजन श्रेष्ठ रहेगा। वैसे तो हर माह की दशमी भगवान विष्णु को दशहरे के रूप में समर्पित है परंतु मार्गशीर्ष शुक्ल दशमी के बारे में कहा गया है शुद्धा, विद्या व नियम आदि का निर्णय यथापूर्व करने के अनन्तर मार्गशीर्ष शुक्ल दशमी को मध्याह्न में जौ की रोटी व मूंग दाल का भगवान को भोग लगाकर प्रसाद स्वरूप एक बार ग्रहण करके एकादशी का व्रत किया जाता है तथा द्वादशी को प्रातः स्नानादि करके श्रीहरि का पूजन कर द्वादशी को एक बार भोजन करके पारण किया जाता है।

आज मंगलवार की शाम एक चुटकी सिंदूर हनुमान करेंगे इच्छा पूरी

मंगलवार को हनुमान जी की पूजा और भक्ति का विशिष्ट दिवस माना गया है। पवनपुत्र हनुमान जी को चमत्कारिक सफलता देने वाला देवता माना जाता है। श्री हनुमान जी की भक्ति करने वाले को बल, बुद्धि और विद्या सहज में ही प्राप्त हो जाती है।

भूत-पिशाचादि भक्त के समीप नहीं आते। हनुमान जी जीवन के सभी क्लेश को दूर कर देते हैं। शास्त्रों के मतानुसार यह अष्ट चिरंजीवी हैं मंगलवार के उपाय विशेष फल प्रदान करते हैं। मंगलवार का दिन हनुमान जी और मंगल देवता की विशेष पूजा का दिन है।

जीवन से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने वाले यह उपाय मंगलवार को करने से मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। आज के युग में हनुमानजी की पूजा सबसे जल्दी मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली मानी गई है।