20 मई से 25 मई के बीच आकाश को छू लेगा 2 राशियों का भाग्य

मिथुन राशिफल

इस हफ्ते भरोसेमंद लोगों के साथ आप अपने मन के संदेह पर विचार विमर्श कर सकेंगे किसी भी काम में संयम और शांति रखें काम पर ध्यान दें शरीर में यह सब से आपके लिए बड़े बदलाव आएंगे जिस बात को लेकर आपके मन में बेचैनी है. उसके संबंध में किसी की कही हुई बात पर भरोसा ना करें ना किसी बात या काम की जिद करें हाथों-हाथ किसी परिणाम की कोशिश भी ना करें. धैर्य रखें बान का प्रयोग संभलकर करें कोर्ट कचहरी संबंधित विवाद उलझाने की भी संभावना है. हरी सब्जियों का सूप पीने अपने जीवनसाथी से सुख मिलेगा. नए लोगों से भी आपके संबंध अच्छे रहेंगे या पुराने संबंध अपडेट हो सकेंगे नौकरी करने वाले लोगों के लिए यह बहुत अच्छा रहेगा किसी इंटरव्यू के दौरान पास हो जाएंगे. और उन्हें जॉब मिलने की पूरी संभावना है आपकी सेहत के हिसाब से यह हफ्ता बहुत ही अच्छा रहेगा.

कर्क राशिफल

इस हफ्ते आमदनी का भी कोई नया आपको मिल सकता है. आपका आत्मविश्वास से सबसे पड़ेगा दफ्तर और परिवार की दबी छुपी गतिविधियों में आप बहुत हद तक सफल हो सकते हैं. कई लोग आपसे प्रभावित हो सकते हैं कोई हाथ व्यक्ति मिलने वाला है. जो आने वाले समय में आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद सिद्ध होगा आप की प्लानिंग लोगों के सामने उजागर हो सकती है. कोई स्थिति बिगड़ भी सकती है तो आपको थोड़ा सावधान रहना होगा व्यापार के लिए कर्ज लेना भी पड़ सकता है. आधा कप फीका दूध पिए इससे आपको अच्छा महसूस होगा. जीवनसाथी के साथ अच्छा समय बिताएंगे. प्यार के मामले में आप सकारात्मक और भावुक रहेंगे. बीती बातों को भुलाकर आगे बढ़ेंगे. बेरोजगार लोगों के लिए रोजगार के दरवाजे खुल रहे हैं व्यापार करने वालों के लिए भी यह बहुत अच्छा रहेगा. उन्हें आगे बढ़ने का मौका मिलेगा मसालेदार भोजन से दूर रहने की सलाह दी जा रही है.

रविवार को गलती से भी न करे ये 3 काम वरना पूरा हफ्ता बस खर्चा ही खर्चा होगा

रविवार के दिन कुछ ऐसे काम हैं जिन्हें शाम के समय नहीं करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार अगर इन कामों को रविवार को शाम को किया जाएं तो उससे लक्ष्मी सहित सभी देवी-देवता मुंह मोड़ लेते हैं। ऐसे में रविवार की शाम को इन कामों को करने से बचना चाहिए…..

रविवार को शाम के समय तुलसी पर जल नहीं चढ़ाना चाहिए और न ही उसके पत्ते तोड़ने चाहिए लेकिन दीपक अवश्य अर्पित करना चाहिए। इससे घर में सुख-समृद्धि का वास होता है।

रविवार की शाम को कभी भी किसी की निंदा अथवा बुराई नहीं करनी चाहिए।

रविवार की शाम को झाड़ू नहीं लगानी चाहिए। ऐसा करने से घर की सकारात्मक ऊर्जा बाहर चली जाती है और नकारात्मकता रह जाती है। इससे दरिद्रता का वास होता है।

रविवार की शाम को पढ़ाई नहीं करनी चाहिए।

क्रोध मनुष्य का सबसे बड़ा दुश्मन है। क्रोध करने वाला स्वयं तो दुखी होता ही है साथ में आस-पास का माहौल भी बिगाड़ देता है। शाम के समय लक्ष्मी पृथ्वी का भ्रमण करने आती हैं और ऐसे में आप अशांत होंगे तो लक्ष्मी आप पर अपनी कृपा नहीं बरसाएंगी। अतः रविवार के दिन शाम के समय क्रोध करने से बचें।

शनिवार की शाम 9 गाँठ बाँध पहन ले हाथ में काला धागा पूरी दुनिया होगी आपकी मुट्ठी में

काला धागा जिससे हम नजर भी उतारते हैं। हमारे लिए बहुत ही कारगर साबित हो सकता है यदि हम इसका सही से इस्तेमाल करें। काला धागा वह धागा है जो इंसान को गरीबी से अमीरी के तरफ ले जा सकता है अगर इसका हम सही इस्तेमाल करें। यदि आप भी काला धागा पहनते हैं लेकिन इसको किस तरह और कहां पहनना है ये नही जानते हैं तो फिर यह पोस्ट आपके लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। आइये जानते हैं शरीर के कौन से अंग पर काले धागे को बांधने से हमे गरीबी से छुटकारा मिल सकता है।

इसके लिए आपको एक काले धागे की जरूरत पड़ेगी और इन काले धागे में आप 9 गाँठ बांध दें और शनिवार या मंगलवार के दिन आप इसे अपने दाहिने हाथ की कलाई में बांध लें। ऐसा कम से कम आप 3 से 7 हफ्ते तक लगातार बांध कर रखें और नियत ये करें कि इसके बरकत से आपकी सारी गरीबी दूर हो जाये। इसका फायदा आपको एक हफ्ते के अंदर ही दिख जाएगा।

ध्यान दे-

काला धागा बांधने का ये मतलब बिल्कुल नही है कि आप इसे बांध कर घर मे चुप चाप बैठ जाएं और पैसों की बारिश होने लगेगी। ऐसा बिल्कुल नही है। काला धागा आपका काम जरूर करेगा लेकिन आपको अपना हाथ पैर हिलाना ही पड़ेगा। ये सिर्फ उसमे बरकत करेगा जिससे आपका काम और आसान हो जाएगा।

सुबह गलती से भी ना देखे इन 3 चीज़ो को वरना पुरे दिन आपके साथ होता है बुरा ही बुरा

आपने बहुत बार लोगों को कहते हुए सुना होगा कि सुबह-सुबह अच्छी चीज देखनी चाहिए| अगर इसकी जगह पर आप कोई खराब चीज देख लेते हो तो आपका पूरा दिन खराब गुजरता है| आज हम आपको कुछ ऐसी ही 4 चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें सुबह उठकर देखने से नुकसान होता है चलिए जानते हैं इन 4 चीजों के बारे में|

बहुत से लोगों की आदत होती है कि वह सुबह उठकर खुद की शक्ल आईने में देखते हैं| लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसा करना अशुभ समझा जाता है इसकी जगह पर आप सुबह उठने के तुरंत पश्चात हाथ जोड़कर प्रभु का नाम लीजिए इससे आपको बहुत लाभ भी होगा|

वास्तु शास्त्र के अनुसार सुबह उठने के तुरंत बाद अगर आपने दो कुत्तों को लड़ते हुए देख लिया तो यह काफी अशुभ माना जाता है क्योंकि इससे उम्र कम होती है|

सुबह उठने के बाद ऐसे बर्तन ना धोएं और ना ही देखें जिन पर तेल लगा हो| इसलिए उन्हें रात को ही धो कर रख दें क्योंकि सुबह उठने के बाद तेल लगे बर्तन देखने से अशुभ होता है|

सुबह उठने के तुरंत बाद अगर आपको कहीं बंदर दिख जाए तो उसे भगाना नहीं चाहिए और कुछ खाने को देना चाहिए |अगर आपके पास कुछ देने के लिए नहीं है तो भी चलेगा लेकिन उसे बिल्कुल भी भगाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए यह अशुभ माना जाता है|

दोस्तों इन बातों का ध्यान आपको रखना है यह काम सुबह उठकर बिल्कुल नहीं करने|

यह पौधा घर के अगर आस पास भी है तो कोई बाल भी बांका नहीं कर पायेगा आपका

शस्त्रों में बुधवार को बहुत शुभ दिन माना गया है और कहा जाता है की अक्सर इस दिन किए गए कार्य शुभ होते है, बुधवार को कृष्ण पक्ष की पंचमी भी कहा जाता है । बुधवार के दिन माँ अन्न्लक्ष्मी की पूजा की जाती है । अन्नपूर्णा माता दुनिया के सभी प्राणियों को भोजन देती हैं और सभी पर अपनी कृपा दृष्टि बनाए रखती है। ऐसा माना जाता है की मार्गशीर्ष महीने में माँ अन्नपूर्णा का व्रत रखने से मनुष्य के संकट दूर होते है, उसकी आर्थिक स्थिति बेहतर होती है और उसकी हर इच्छा पूरी हो जाती है ।

सच्चे मन से इस व्रत को रखने वाले मनुष्य के घर में कभी धन की कमी नहीं होती और उस मनुष्य के शरीर में रोगो से लड़ने की क्षमता बनी रहती है । शस्त्रों के अनुसार माँ अन्नपूर्णा के भोग में रखा गया धनिया यदि आप अपने रसोई घर में छिपा कर रखे तो आपके घर में कभी अन्न और धन की अपार वर्षा होने लगेगी

मनुष्य का स्वास्थ कितना अच्छा होगा यह इस बात पर निर्भर करताहै कि वह कितना पौष्टिक भोजन करते है और अगर रसोई घर में जितनी सकारात्मक ऊर्जा होगी उतने ही शरीर स्वस्थ रहेगा। माँ अन्न्लक्ष्मी की पूजा वाले दिन मंदिर में जाकर गौघृत का दीपक जलाए, मेहंदी तथा सफ़ेद फूल चढ़ाएं तथा माँ अन्न्लक्ष्मी को धनिये की पंजीरी का भोग लगवाए।

घर में तुलसी के पौधे को हटा कर रख दे यहां पैसा खुद खींचा चला आएगा आपके घर

वास्तु के अनुसार घर और ऑफिस में तुलसी का पौधा, गुड़हल, अनार का पेड़, बेल का वृक्ष, केले का पेड़, अशोक वृक्ष, शमी का पेड़, नींबू, आंवला, नीम लगाना चाहिए। पुराणों में इन पेड़-पौधों को शुभ माना गया है। इनमें से कुछ की पूजा की जाती है तो कुछ में देवी-देवताओं का निवास माना गया है। घर और ऑफिस में लगे इन शुभ पेड़-पौधों का सीधा असर आपकी सेहत और पैसों पर पड़ता है। इनके शुभ प्रभाव से बीमारियां दूर होती हैं। झगड़े, टेंशन, डिप्रेशन और पैसों का नुकसान भी नहीं हाेता। जानिए कौन से पेड़-पौधे किस दिशा में लगाने चाहिए।

तुलसी -यह पौधा नकारात्मकता दूर करता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी का पौधा घर या ऑफिस की पूर्व दिशा या पूर्व-उत्तर के कोने में रखना चाहिए। इससे धन लाभ और मानसिक शांति मिलती है। इस पौधे कोदक्षिण दिशा में नहीं रखना चाहिए।

सफेद मदार -यह पौधा पूर्व-उत्तर के कोने में या इन दिनों दिशाओं में लगाया जा सकता है। इससे धन लाभ और अचानक फायदा होता है। इस पौधे के शुभ फल से हर तरह के काम सिद्ध होते हैं और दुश्मनों पर जीत मिलती है। मनमुटाव नहीं होता और प्रेम बना रहता है।
केले का पेड़ -वास्तु शास्त्र के अनुसार केले का पेड़ ईशान कोण में यानी पूर्व-उत्तर दिशा में होना चाहिए। इस पेड़ के प्रभाव से मन शांत रहता है। आकर्षण बढ़ता है। हर तरह के पाप खत्म हो जाते हैं। इसके प्रभाव से घर में शांति और सुख बढ़ता है।
आंवला -यह पेड़ हर तरह का पाप खत्म करता है।धार्मिक मान्यता के अनुसार आंवला के वृक्ष पर सभी देवताओं का वास है।घर या ऑफिस में आंवले का पेड़ उत्तर या पूर्व दिशा में होना चाहिए। इससे हर तरह की इच्छाएं पूरी होती हैं और घर का हर तरह का कष्ट निवारण हो जाता है।

अशोक -इस पेड़ को घर या ऑफिस की उत्तर दिशा में लगाना चाहिए। इससे हर तरह का दोष खत्म होता है। सेविंग बढ़ती है और नकारात्मकता दूर होती है।

घर की रसोई में भूल से भी न रखे यह बर्तन वरना सारी जिंदगी परेशानी में रहोगे फसे

वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में बहुत ही ज्यादा महत्व है क्योंकि वास्तु शास्त्र एक ऐसा विज्ञान है, जिसकी सहायता से भविष्य में ढेर सारी सफलता प्राप्त कर सकते है। वास्तुशास्त्र में ऐसे कुछ नियम है जिनका हमें कड़ाई से पालन करना चाहिए।

आज की इस पोस्ट में हम आपको वास्तु शास्त्र अनुसार बर्तनो से जुड़ा एक ऐसा नियम बताने जा रहे है, जिसका पालन आपको बड़ी कड़ाई से करना चाहिए।

टूटे बर्तनों में खाना

अगर आप भी टूटे बर्तनों में खाना खाते हैं तो आपको अपनी इस आदत को बदल लेने की जरूरत है क्योंकि ऐसे बर्तनों में खाने से आपका भाग्य प्रभावित तो होता ही है, साथ ही ऐसा करने से आपके घर में दरिद्रता का वास होने लगता है, वास्तु शास्त्र में इन चीजों के बारे में बहुत ही विस्तार से बताया गया है। टूटे हुए बर्तनों में न भोजन बनाएं और न ही खाएं, वास्तु शास्त्र में इसे अशुद्ध माना जाता है।

अगर आप जीवन में ढेर सारी सफलताएं प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको टूटे बर्तनो में खाने से बचना चाहिए। टूटे बर्तनो में खाने से आपके घर में कलह-कलेष भी बढ़ता है।

एक लोटे में गंगाजल भर रखदे इस जगह करोड़ो का कर्ज भी होगा तुरंत माफ़

मानव जीवन में एक काॅमन समस्या की अगर बात करें तो वह है धन की कमी। जी हां धन की कमी के अभाव में न जाने कितने ही लोग अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं। और इसी कमी की वजह से इंसान दूसरों से कर्ज ले लेता है। वैसे तो इंसान के जीवन मे किसी भी चीज का कर्ज अच्छा नहीं होता है। कर्ज चाहे जिस भी चीज का हो जितनी जल्दी खत्म हो जाए उतना ही अच्छा है। इसे कभी भी बढ़ने नहीं देना चाहिए। लेकिन कुछ लोगों के जीवन में कर्ज इतना ज्यादा बढ़ जाता है की वह ठीक से रह भी नहीं पाते। उनके जीवन से शांति लगभग जा चुकी होती है। अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है तो आज हम आपको कर्ज से मुक्ति के लिए गंगा जल का ऐसा उपाय बताने जा रहे हैं, जिसे करने के बाद कर्ज चाहे जितना ही बढ़ा क्यों न हो झट से उतर जाएगा।

कर्ज़ से मुक्ति के लिए गंगा जल बहुत ही अच्छा उपाय है। इसके लिए पीतल के बर्तन में गंगा जल को भरकर अपने कमरे की उत्तर दिशा में रखे। ऐसा करने से सारे कर्ज़ से मुक्ति मिल सकती है।

गंगाजल की वजह से घर में सदेव सुख समृद्धि बनी रहती है। इसी वजह से हमेशा के लिए घर में गंगाजल को भरकर रखना अच्छा होता है। इसे सिर्फ मन्दिर में या कोई पवित्र जगह पर ही रखना अच्छा होता है।

शास्त्र के अनुसार गंगा जल को शिवजी पर रोज़ चढाने से धन प्राप्ति के योग बनते है और साथ ही पैसो की कमी भी दूर हो जाती है। वास्तु दोष होने पर घर में रोज़ गंगा जल का छिडकाव करते रहना चाहिए, जिससे वास्तुदोष बिलकुल खत्म हो जायेगा।

शनि देव के साथ हनुमान जी भी बरसा रहे है कृपा इन पांच राशियों पर बरसेगा जमकर पैसा

इस दुनिया में हर इंसान पैसा कमाना चाहता है, वह चाहता है की उसके पास पैसा, हो गाड़ी हो और रहने के लिए एक शानदार मकान हो। और इसी के पीछे पूरी दुनिया भागती रहती है.

उसे पाने के लिए पर कुछ बाधाओं के कारण वह उसे प्राप्त करने में अपने को बार बार असफल महसूस करता है पर कुछ चुनिंदा लोग इस मुकाम को प्राप्त कर जातें हैं। इसमें उनका कठोर परिश्रम और उनके भाग्य का भरपूर सहयोग रहता है।

मित्रों इस शनिवार को महाराज शनिदेव और हनुमान जी के द्वारा जो महासंयोग हो रहा है उसके आधार पर 5 राशियों पर होने वाली है इनकी कृपा जिससे इनके पैसों से जुड़े सभी परेशानियों का अंत हो जायेगा। और खुब पैसा कमाने जा रहे हैं इन राशियों के जीवन की सभी बाधाएं दूर हो जाएंगी। और आप अपने लक्ष्य को सरलता से प्राप्त करेंगें। वे 5 राशियां वृषभ, कन्या, तुला, धनु और कुम्भ हैं।

ऐसी स्त्री बहुत भाग्यशाली होती है ससुराल और पति के लिए घर में घुसने के साथ ही पति बन जाता है करोड़पति

जब कोई पुरूष कि शादी होने वाली होती है, तो उसके मन में कई तरह के विचार पैदा होते रहते है। उनमें से एक विचार अपने भाग्य को लेकर आता है। वह यही सोचता है कि उसका भाग्य उसकी होने वाली पत्नी लेकर आयेगी। लेकिन ऐसा ही हो, ये जरूरी तो नहीं। अगर आप भी कुछ ऐसा ही सोचते हैं, तो यहां पर आज हम आपसे कुछ इसी सिलसिले पर चर्चा करने वाले हैं। यहां पर हम जानेंगे कि आखिर कैसे हम उन महिलाओं को पहचाने जो पुरूष का भाग्य लेकर आती हैं।

जिस स्त्री के दांत एक समान होते हैं और जिनकी बोली कोयल के समान मीठी होती है, वह महिला भाग्यशाली होती है।

शास्त्रों के मुताबिक कोमल कान वाली स्त्रियां श्रेष्ठ होती है। माना जाता है ऐसी स्त्री पति के भाग्य को बढ़ाती है।

जिन महिलाओं के बाल चिकने, घुंघराले और चमकदार होते हैं। वह पति के भाग्य को बढ़ाती है।

जिन महिलाओं की हथेलियों के पास मणिबंध सुंदर और भरे होते हैं वह बहुत भाग्यशाली मानी जाती है।

जिन महिलाओं की हथेलियां कमल की तरह लाल और कोमल होती है वह बहुत शुभ मानी जाती है।