यदि आप भी अपनी कमाई संभाल रखते हो यहां तो हमेसा कमाई से ज्यादा होगा आपका खर्चा

वास्तुशास्त्र के अनुसार अपने घर की तिजोरी को गलत दिशा में रखने भी धन की हानि होती है और घर में सदैव ही क्लेश बना रहता है। हर इंसान यह चाहता है कि उसके पास हमेशा ही सबसे ज्यादा धन हो और कितना भी खर्च करे पर उसके धन में लगातार बढ़ोत्तरी होती रहे। कुछ लोग कंजूसी के कारण पैसों को खर्च नहीं करते है फिर भी उनके पास पैसे टिक नहीं पाते है।

# पूर्व दिशा : पूर्व दिशा को घर की सबसे शुभ दिशाओं में से एक माना जाता है। इस दिशा में घर की तिजोरी रखना बहुत शुभ होता है और इसमें राखी हुई सामग्री में वृद्धि होती रहती है।

# पश्चिम दिशा : पश्चिम दिशा में तिजोरी रखने से उसमे रखे धन-संपत्ति और आभूषण पर इसका अनुकूल असर पड़ता है साथ ही घर का मुखिया को धन कमाने बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

# उत्तर दिशा : इस दिशा में अलमारी में नकद व आभूषण में कोई वृद्धि नहीं होती है और अगर अलमारी का मुँह पूर्व या पश्चिम दिशा की और होता है तो इससे धन में कमी आती है।

# दक्षिण दिशा : इस दिशा में तिजोरी में धन, सोना, चांदी और आभूषण रखने से नुकसान तो नहीं होता परंतु बढ़ोत्तरी भी विशेष नहीं होती है।

काली मिर्च के सिर्फ 5 दाने और पलक झपकते ही बनेगा हर काम

कईं बार व्यक्ति के जीवन में उसके बुरे ग्रहों के चलते कई मुश्किलें पैदा होने लगती हैं, जिसके कारण उसे किसी काम में भी सफलता नहीं मिल पाती। लेकिन यदि व्यक्ति कुछ उचित उपाय करे तो अपने जीवन में चल रही परेशानियों से हमेशा-हमेशा के लिए मुक्ति पा सकता है। तो यदि आपके जीवन में ग्रहों के कुप्रभावों के कारण पैसों की तंगी है, जीवन में सफलता नहीं मिल रही या वास्तु दोष के कारण घर में सुख-समृद्धि नहीं आती तो काली मिर्च के कुछ चमत्कारी उपाय आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकते हैं।

धन प्राप्ति
यदि आपके घर में धन का अभाव रहता है तो आप आगे बताए जाना वाला उपाय कर सकते हैं। इन उपाय से धन-लाभ होने लगता है।

उपाय
सबसे पहले काली मिर्च के 5 दाने लें और उन्हें अपने सिर पर से 7 बार उतार लें। फिर किसी चौराहे पर खड़े होकर या किसी एकांत स्थान पर चारों दिशाओं में 4 दाने फेंक दें और 5वें दाने को ऊपर आसमान की ओर फेंक दें। ऐसा माना जाता है कि जो भी व्यक्ति यह उपाय करता है उसके लिए अचानक धन प्राप्ति के योग बनते हैं। साथ ही यदि किसी की बुरी नज़र के कारण आपकी आर्थिक स्थिति प्रभावित हो रही हो तो वह दोष भी दूर हो जाता है। साथ ही बुरी नज़र भी उतर जाती है।

वास्तु दोष होंगे दूर
अगर आपके घर में भी कई तरह के वास्तु दोष है, जिनका आप चाहकर भी कोई उपाय नहीं निकाल पा रहे तो एक बार नीचे दिए गए उपाय को अवश्य अपनाएं।

उपाय
शास्त्रों के अनुसार शनि देव के साड़ी साती का प्रभाव होने से शनि ग्रह उस पर भारी होता है। शनि ग्रह वास्तु दोष को दूर करने के लिए आपको एक काले कपड़े में काली मिर्च और पैसे लपेटकर किसी गरीब को दान करना चाहिए है। ऐसा करने से शनि ग्रह का प्रभाव कम होने लगता है और धीरे-धीरे शांत हो जाता है।

सफलता में आने वाली अड़चनें होंगी दूर
कई बार होता है जब व्यक्ति का बनता काम बिगड़ जाता है या काम में अनेक रुकावटें आने लगती हैं। इन अड़चनों को दूर करने के लिए काली मिर्च का टोटका बहुत सहायक साबित हो सकता है।

उपाय
आप जब भी घर से बाहर काम करने के लिए जाएं तो एक काली मिर्च मुख्य दरवाज़े के बाहर रखें और उस पर पैर देकर जाएं। ध्यान रहे कि काली मिर्च पर पैर रखने के बाद फौरन घर न आएं इससे लाल किताब टोटके का असर उल्टा होने की संभावना बढ़ जाती है और आपका बनता काम बिगड़ सकता है।

बीमारियों होंगी दूर
यदि आपके घर हमेशा कोई न कोई सदस्य बीमार रहता हो तो काली मिर्च के टोटके से बीमारी से मुक्ति पाई जा सकती है।

उपाय
काली मिर्च के 8 दाने लेें और घर के किसी एक कोने में दिए में डालकर जला दें। इस उपाय से घर में बीमारी पैदा करने वाली ऊर्जा का नाश होता है।

रविवार की सुबह सिर्फ एक मुट्ठी नमक घर से हर परेशानी का नामोनिशान मिटा देगा

दोस्तों हमारे जीवन में कई सारी रुकावटें आती हैं। कभी कभी तो इतनी मुश्किलें आ जाती हैं कि वह काम सफल ही नहीं होते। कभी तो ऐसा होता है कि हमारे सब काम होते होते ऐसा मोड़ ले लेते हैं कि उस काम में सफलता नहीं मिलती।

बहुत से लोगों के साथ ऐसा होता है। आखिर ऐसा क्यों होता है? दो ही कारण हो सकते हैं या तो आप को किसी की नजर लग सकती है या फिर आपके ग्रह में कोई दोष है। इनके कई सारे उपाय हैं लेकिन आज मैं आपको एक बहुत ही आसान से उपाय बताऊंगी। जिसके लिए आपको सिर्फ एक मुट्ठी नमक की जरूरत होगी।

आप अपने दाएं हाथ में मुट्ठी में नमक भरे और उसे अपने सिर के इर्द गिर्द पहले 3 बार अपने दाएं तरफ घुमाएँ फिर 3 बार बाँई तरफ घुमाएँ। फिर वो नमक अपने टॉयलेट में जाकर उसे फ्लश कर दें। ऐसा नहीं कर सकते तो तो उस नमक को घर के बाहर जाकर किसी गंदी नाली में फेंक दें। अगर वह भी मुमकिन नहीं है तो वह नमक लेकर अपने दरवाजे के दाहिने तरफ रख दे। ध्यान रखिए कि आप उसके ऊपर पानी बहा दें। ताकि वह नमक पानी के साथ आगे बह जाए।

इसके साथ आपको एक चीज का बहुत ख्याल रखना है कि आप यह उपाय जब कर रहे हो या करने के पहले या बाद में यह आप किसी को ना बताएं। इस काम को आपको गुप्त तरीके से करना है ना ही किसी को यह पता चले कि आपने क्या किया है।

घर में दिखाई दे रही है आपको काली चिट्टी तो हो जाए खुस क्योकि बहुत जल्दी …

हमारे शास्त्रों में व्यक्ति की जीवन और उसके जीवनकाल से जुडी कई चीजों के बारे में जानकारी दी गयी है। इसी में से एक जानकारी के मुताबिक घर में चीटियों की उपस्थिति संकेत होती है। अगर आपको भी अपने घर में चीटियां दिखाई दें तो आपको समझ जाने चाहिए की ये आने वाले भविष्य के बार में संकेत है। आज की पोस्ट में हम आपको बताएँगे की घर में चीटियों की उपस्थिति का क्या मतलब होता है।

घर में चीटियों की उपस्थिति का मतलब

आपके घर में चीटियों की उपस्थिति बेहद सामान्य बात है परन्तु अगर आपके घर में लाल चीटियों की उपस्थिति है तो आपको सावधान हो जाने की जरुरत है। चीटियां बेहद परिश्रमी होती है और इनके बीच सामंजस्य कमाल का होता है। चीटियों से आप कई सारे गुण सीख सकते हैं। अगर आपके घर में काली चीटियां हैं तो आपको परेशा होने की जरुरत नहीं है।

हममे से अधिकतर लोग इन चीजों पर ध्यान नहीं देते हैं जो हमारे आने वाले भविष्य के बारे में हमे आगाह करता है। अगर आपके घर में लाल चीटियां है तो यह घर में परेशानी और दुःख एक संकेत है। लाल चीटियां काली चीटियों से उग्र होती है और ये काटती भी है। लाल चीटियां आने वाली परेशानी एक संकेत है और यह घर में दरिद्रता को भी इंगित करती है। शास्त्रों में इसी वजह से लाल चीटियों को अशुभ और काली चीटियों को शुभ माना गया है।

शनिवार को सीता माँ के चरणों में लगा दे इसे खुद हनुमान जी भर देंगे आपकी झोली

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगलवार व शनिवार के दिन शिव के रूद्र रूप बजरंगबली की पूजा-अर्चना का विशेष महत्व माना जाता है। मान्यता है कि हनुमान जी एक ऐसे देवता है जो थोड़ी-सी प्रार्थना और पूजा से शीघ्र प्रसन्न हो जाते हैं। शनिवार व मंगलवार के दिन जहां बजरंगबली के कुछ उपाय करने से जीवन के सारे कष्ट, संकट मिट जाते हैं। वहीं इस दिन कुछ छोटी-छोटी गलतियां व्यक्ति पर भारी भी पड़ सकती हैं।

क्या करें-
शनिवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में जाकर, उनके कंधों पर से सिन्दूर लाकर नज़र लगे व्यक्ति को लगाएं तो नज़र का प्रभाव समाप्त हो जाता है।

मंगलवार के दिन व्रत करें और शाम के समय बूंदी का प्रसाद बाटें। एेसा करने से पैसों की तंगी दूर हो जाती है।

मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी के मंदिर में जाकर उनके समक्ष 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें।

बजरंग बली के मस्तक से सिंदुर लेकर सीधे हाथ से माता सीता के चरणों में लगाना चाहिए। शाम के समय इत्र व गुलाब की माला चढ़ाएं।

इस दिन हनुमान जी को भोग लगाएं और कोशिश करें कि वहीं प्रसाद लोगों और बालको में बांटें।

पैसों की तंगी को दूर करने के लिए प्रति मंगलवार और शनिवार को पीपल के 11 पत्तों को तोड़ कर स्वच्छ जल में कुमकुम या चंदन मिलाकर इससे श्रीराम का नाम लिखें और साथ में हनुमान चालीसा का पाठ करें, राम नाम लिखने के बाद इन पत्तों की एक माला बनाएं। इस माला को किसी भी हनुमान जी के मंदिर जाकर वहां बजरंग बली को अर्पित करें। कुछ समय बाद आपको इसके अच्छे परिणाम देखने को मिलेगें।

क्या न करें
मंगलवार को अपने बाल व नाख़ून नहीं काटने चाहिए और औरतों को सिर भी नहीं धोना चाहिए।

मंगलवार को तेज़ धार वाली चीजें जैसे चाकू, कैचीं आदि न ख़रीदें और न ही दक्षिण दिशा में कोई भी धार वाली चीज़ रखें।

इस दिन किसी भी प्रकार का मांसाहार न घर में पकाएं और न बाहर से खाएं।

भूल से भी घर न लाये माँ लक्ष्मी की ये मूर्ति वरना जिंदगी भर दाने दाने को तरसोगे

आपको बता दूं कि हिन्दू धर्म मे पुजा पथ का प्रावधान है पूजा पाठ से घर मे सुख आता है| सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होता है| आपको यह पता है होना चाहिए कि कुछ देवी देवता की पूजा घर मे नही की जा सकती है आइये में आपको बताता हूँ ऐसे को से देवी देवता की प्रतिमा है| जिनकी पूजा घर मे नही करनी चाहिए|

1. शनि देव न्याय के देवतां है| इनकी टेढ़ी नजर ओर चाल से हर कोई बचना चाहता है| आपको बता दूं कि शनि देव की मूर्ति घर मर रख कर पूजा नही करनी चाहिये इनकी पूजा हमेशा मंदिर में ही होनी चाहिए|

2. कभी में भगवान शिव जी के रूप में नटराज की मूर्ति कभी भी घर मे नही रखना चाहिये| कहा जाता है कि ये रूप उनका विनाश को दर्शाता है|

3. घर मे कभी भी मत लष्मी की खड़ी मूर्ति नही रखनी चाहिए| हमेशा बैठी हूई मूर्ति को नई रखना चाहिये और न पूजा करनी चाहिए|

4. वेसे तो भैरव जी भगवान शिव जी के ही रूप है पर इनकी कभी भी फ़ोटो या मूर्ती घर मे रख कर आराधना नही करना चाहिये| कहा जाता है भगवान भैरव जी तंत्र मंत्र से पूजे जाते है|

दोस्तो ये कुछ देवी देवता है| जिन्हें ज्योतिष के अनुसार घर मे नही पूजन चाहिये|

पैर में बाँध ले इस तरह काला धागा सालो बीमार पड़ा व्यक्ति भी उठ खड़ा होगा पलंग से

दोस्तों आपने अक्सर लोगों के पैर के अंगूठे में काला धागा बंधा देखा होगा। कुछ लोग तो इसे फैशन समझ कर भी बांध लेते हैं। लेकिन आज हम आपको बताएँगे कि पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से एक बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाती है। इस बीमारी का इलाज डॉक्टर भी नही कर पाते हैं और पैर में धागा बांधने से यह बिलकुल ठीक हो जाती है।

पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से जड़ से खत्म हो जाती है ये बीमारी

दोस्तों जैसा की आप जानते हो कि हमारे शरीर में बहुत सारी नसें होती हैं। यह सभी नसें हमारी नाभि से जुड़ी होती हैं। जब यह नाभि अपनी जगह से खिसक जाती है तो पेट दर्द, खाना न पचना और दस्त जैसी समस्याएं हो जाती हैं। इसे दवा खाकर भी ठीक नही किया जा सकता। लेकिन पैर में काला धागा बांधने से यह बिलकुल ठीक हो जाती है।

कुछ लोग पैर में भी धागा बांधते हैं इससे भी नाभि की समस्या नहीं होती है।

रात बस एक लॉन्ग कपूर जितनी भी है परेशानी उस कपूर के साथ होगी वह हमेसा के लिए खत्म

दोस्तों घर नकारात्मक ऊर्जा रहने के कारण कई परेशानियों का सामना करा पड़ता है। किसी भी काम में सफलता नहीं मिल पाती है। आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बता रहे है जिसे करने पर घर से नकारात्मक ऊर्जा से छुटकारा मिल जायेगा। जिसे घर में सुख शांति बनी रहेगी। तो दोस्तों आप भी इन उपायों के बारे में जान लीजिये।

दोस्तों आपको बता दे की अगर आपको अपने घर में किसी नकारात्मक ऊर्जा का आभास हो रहा है तो अपने घर के चारो तरफ कपूर रखकर जलाये, ऐसा करने से आपके घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाएगी। और घर में सुख शांति बनी रहेगी।
दोस्तों आपको बता दे की नियमित रूप से शाम के समय पूजा के बाद अपने घर में कपूर और लौंग का जलना चाहिए, इन दोनों की धुँआ होने से घर में नेगेटिव एनर्जी से छुटकारा मिल जायेगा।
दोस्तों आपको बता दे की घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए साफ़ सफाई का खास ध्यान रखे और सात दिनों तक लगातार पीपल के पत्ते में गौमूत्र लगाकर अपने घर के हर कोने में छिड़काव करे।

पुरे साल में केवल 1 बार हनुमान जी का ये जाप सालो साल तक बनते रहेंगे बिगड़े काम

पूरे विश्व में ऐसी कोई समस्या नहीं है या ऐसा कोई संकट नहीं है, जिसे संकट मोचन हनुमान जी की आराधना व उपासना से समाप्त नहीं किया जा सकता है। हिंदू धर्म के शास्त्रों में कलयुग के साक्षात देवता हनुमान जी की पूजा का खास महत्व बताया गया है।

यदि आपके घर को किसी की बुरी नजर लग गई हो या आप अच्छी कमाई करते हैं परंतु इसके बावजूद भी आपके घर में बरकत नहीं होती है, आपके बच्चे आपके कहने से बाहर हैं या आपके घर परिवार पर बुरी शक्तियां अपना प्रभाव दिखाती हो और घर के सदस्य आए दिन लड़ाई झगड़ा करते हो तो ऐसे में साल भर में सिर्फ एक उपाय कर लेने से मनुष्य की मनवांछित इच्छा तो पूरी होती ही है, साथ में घर में सुख शांति भी बनी रहती है।

साल में एक बार अपने घर में रामायण पाठ या सुंदरकांड पाठ अवश्य कराएं, यदि संभव हो तो 3 महीने के अंतराल से घर में हनुमान यज्ञ करवाना सर्वश्रेष्ठ माना जा सकता है, माना जाता है ऐसा करने से घर-परिवार पर मंडरा रही बुरी शक्तियों का अंत होता है, किसी भी तरह की नकारात्मक ऊर्जा आपके घर में अपना स्थान नहीं बना पाती हैं। यदि आपके लिए ऐसा करना संभव ना हो तो रोजाना सुबह एवं शाम हनुमान चालीसा पाठ या रामचरितमानस का पाठ या महामृत्युंजय मंत्र या गायत्री महामंत्र का जाप करते रहना चाहिए, ऐसा करने से भी आपके सभी अधूरे काम बनने लगेंगे और किसी भी तरह की बुरी शक्ति आपका कुछ भी नहीं बिगाड़ पाएगी, यह उपाय हमेशा साल भर अवश्य करे और इसका असर सकारात्मक परिणाम दिखायेगा। इस पोस्ट में दी गई जानकारी आपको कैसी लगी, कृपया कमेंट करके अवश्य बताएं।

तुलसी के निचे रात चुपचाप गाड़ दे इसे इतना आएगा पैसा संभाल नहीं पाओगे

हिंदू धर्म में तुलसी का बहुत बड़ा महत्व है। तुलसी का माता माना जाता है। इसकी एक वजह तुलसी को देवी का दर्जा प्राप्त हैं। इन्हें श्रीकृष्ण की अर्धांग्नी के रूप में भी जाना जाता हैं। वहीं मान्यता है कि तुलसी का पौधा घर के आंगन या छत पर लगाने से दरिद्रता से दूर होती है आैर घर का पूरा माहोल सकारात्मक हो जाता है। वहीं तुलसी लगाने से घर में खुशहाली आती हैं। वहीं पंडित रामेश्वर तिवारी बताते है कि अगर तुलसी की घर में इस विधि के अनुसार पूजा की जाए तो घर के सदस्यों के दुख दूर होने के साथ ही आप की आमदनी पर दिन दूगनी रात चौंगनी हो जाती है।

अधिकतर लोग घर में एेसे करते है तुलसी पूजा

पंडित जी बताते है कि हिंदू धर्म के अनुसार अक्सर लोग घर में तुलसी का पौधा जरूर लगाते है, लेकिन वह उनकी पूजा विधी के अनुसार नहीं करते। वह हर रोज एक लोटा जल आैर एक धूप जलाकर जल्दी जल्दी पूजा कर छोड़ देते है। वहीं अगर पूरे विधी विधान से मां तुलसी की पूजा की जाए तो वह प्रसन्न होकर इसका फल देती है।

एेसे करेंगे पूजा तो होगा लाभ

पंडित जी बताते है कि तुलसी मां को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार के दिन बाजार से एक नया चांदी का सिक्का खरीद कर लेकर आए। इसी दिन इस सिक्के को लक्ष्मी मां के चरणों में रख दे। इसके बाद माता रानी के सामने दो घी के दीपक प्रज्वलित करें। अब एक दीपक से लक्ष्मी जी की आरती करें। इसके बाद उनके सामने रखे सिक्के की हल्दी, कुमकुम और चावल से पूजा करे। इसके बाद लक्ष्मी मां के सामने से एक दीपक उठाकर उसे तुलसी माता के सामने जाकर रखें। इसके साथ ही चांदी के सिक्के को तुलसी के गमले की मिट्टी में गाड़ दे। वहीं जिस समय करें। उस समय ध्यान रखें कि कोर्इ आप को देख न रहा हो। इसके बाद आप तुलसी माता की आरती कर पूजा समाप्त करें। इससे आप के घर के कलेश मिटने के साथ आमदनी भी बढ़ेगी। आैर माता आप पर आने वाली हर मुसीबत पर अंकुश लगा देंगी।