यदि धरती में कोई महान राजनीतिज्ञ हुआ तो वह थे आचार्य चाणक्य, चाणक्य को केवल भारत में ही नहीं बल्कि समस्त संसार में महान व कुशल राजनीतिज्ञ एवं पारंगत नीतिशास्त्रों के रूप में जानते है.

आज हम आपको चाणक्य के 5 उन सूत्रों के बारे में बताने जा रहे है जिन्हे जीवन में अपनाने से व्यक्ति वह सब कुछ हासिल कर सकता है जिसकी उसे कामना है.

1 . किसी भी व्यक्ति हद से ज्यादा ईमानदार नहीं होना चाहिए क्योकि सीधे पेड़ तथा इमानदर व्यक्ति पर सबसे पहले प्रहार किया जाता है.

कभी व्यक्ति को हद से ज्यादा न तो ईमानदार होना चाहिए ना ही मुंहफट. जहां यदि कोई बात आपको गलत लगती हो उसके लिये वहां अपनी बात हलके से सलाह के रूप में रखने की कोशिश करे.

यदि आपको लग रहा हो आपकी कही बात पर तीखी चर्चा हो रही है तो आगे चर्चा से बचे.

अपनी बात किसी व्यक्ति के सामने रखते समय उसे गलत ठहराने की कोशिश ना करें चाहे आप सही क्यों न हो. विशेषकर आफिस में अपने सीनियर और बॉस की आलोचना करने से बचे.

आफिस में अपने आइडियाज को लागू करने का अवसर तब है जब आप खुद आफिस के चार्ज में हो. जब तक आप जूनियर है तब तक अपने आइडिया को घुमा फिरा कर कहे.

loading...
Loading...
Loading...