कच्चे धागे से शनिदेव के साथ पक्का रिश्ता बांध लीजिए. क्‍योंकि यही कच्चा धागा आपको कलयुग के देवता शनि का वरदान दिला सकता है. हिमाचल प्रदेश के महाकाल मंदिर में शनिदेव का ऐसा मंदिर है, जहां खंभों पर कच्चा धागा बांध दिया जाए तो न केलव शनि प्रकोप कट जाता है बल्कि विपरीत ग्रह स्थिति से भी मुक्ति मिल जाती है.
महाकाल मंदिर में गोल-गोल खंभों के इर्द गिर्द घूमती है भक्तों की दुनिया. इनमें ही वो भरोसा और चमत्कार दिखता है जिसका अनुभव करने के लिए भक्‍त न तो समय की परवाह करते हैं और न ही दूरी की. महाकाल मंदिर में लगे खंभे कोई मामूली खंभे नहीं हैं, ये मुराद पूरी करने वाले खंभे हैं. ये आस्था को परवान चढ़ाने वाले खंभे हैं, ये चमत्कार दिखाने वाले खंभे हैं. शनिदेव के मंदिर के ये 12 खंभे भक्तों को शनिदेव का आशीर्वाद दिलाते हैं और भक्तों के हर दुख का निवारण करते हैं.

हिमाचल प्रदेश के महाकाल गांव में बने शनिदेव के मंदिर में हर राशि का एक खंभा है. कहते हैं अगर भक्त अपनी राशि के खंभे पर कच्चा धागा बांधकर कामना मांगते हैं तो शनिदेव उन्हें कभी निराश नहीं करते. चाहे साढ़ेसाती हो या ढैय्या, अष्टम शनि का संकट हो या कंटक शनि के कांटे जीवन में चुभ रहे हों, भक्तों के जीवन का हर दुख यहां आकर सुख में बदल जाता है.

कहते हैं इसी मंदिर में आकर शनि ने महाकाल की आराधना कर उनसे शक्तिशाली होने का वरदान पाया था. यहीं पर शनिदेव की इच्छा पूरी हुई थी, इसलिए यहां शनिदेव भक्तों की हर इच्छा पूरी करते हैं.

loading...
Loading...
Loading...