amir banne ka formula, dhanwan banne ke upay, amir banne ki dua, amir banne ka aasan tarika, garib se amir kaise bane, maldar banne ki dua, amir banne ka tarika in hindi, amir kaise bane hindi me, dhan prapti ke upay lal kitab,काम मे सफलता के टोटके, नौकरी में सफलता के उपाय, परीक्षा में सफलता के टोटके, सर्वत्र सफलता के उपाय, कामयाबी के सूत्र, कामयाब होने के तरीके, सफलता का राज, कामयाबी के तरीके, धन प्राप्ति उपाय, व्यापार में वृद्धि के उपाय, व्यापार बढाने के टोटके

माँ लक्ष्मी की पूजा में न करे इन वस्तुओ का प्रयोग, रुष्ठ हो जाती है धन की देवी माँ लक्ष्मी |

*शास्‍त्रों में बताया गया है क‌ि देवी लक्ष्मी की पूजा में कुछ बातों का ध्यान बहुत जरूरी है अगर इनकी अनदेखी की जाती है और पूजा में इनका प्रयोग क‌िया जाता है तो धन की देवी लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं इसल‌िए देवी लक्ष्मी की पूजा करते समय इन बातों का जरूर ध्यान रखें।

*भगवान व‌िष्‍णु को तुलसी प्र‌िय लेक‌िन देवी लक्ष्मी को तुलसी से वैर है क्योंक‌ि यह भगवान व‌िष्‍णु के अन्य स्वरूप शाल‌िग्राम की पत्नी है। इस नाते तुलसी देवी लक्ष्मी की सौतन है। इसल‌िए देवी लक्ष्मी की पूजा में तुलसी और तुलसी मंजरी भूलकर भी नहीं चढ़ाएं।

*देवी लक्ष्मी की पूजा के ल‌िए दीपक की बाती लाल रंग की प्रयोग में लाएं। दीपक को दायीं ओर रखें। दीपक बायीं ओर नहीं रखना चाह‌िए। इसका कारण यह है क‌ि भगवान व‌िष्‍णु अग्न‌ि और प्रकाश स्वरूप हैं। भगवान व‌िष्‍णु का स्वरूप होने के कारण दीप को दायी ओर रखना चाह‌िए।

*धन की देवी लक्ष्मी की पूजा के समय अगरबत्ती दायीं ओर नहीं रखें। धूप, धूमन धुएं वाली चीजों को बायीं ओर रखें। बायीं ओर धूप धूमन और अगरबत्ती जलने से भगवान व‌िष्‍णु की वामांगी देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।

*सफेद फूल देवी लक्ष्मी को नहीं चढ़ाएं। देवी लक्ष्मी चीर सुहागन हैं इसल‌िए इन्हें हमेशा लाल फूल जैसे लाल गुलाब और लाल कमल फूल चढ़ाया जाता है।

*देवी लक्ष्मी की पूजा तब तक सफल नहीं मानी जाती है जब तक भगवान व‌िष्‍णु की पूजा नहीं होती है। इसल‌िए दीपावली की शाम गणेश जी की पूजा के बाद देवी लक्ष्मी और भगवान व‌िष्‍णु की भी पूजा करें। इस बात का उल्लेख देवीभाग्वत पुराण में क‌िया गया है।

*देवी लक्ष्मी की पूजा के समय प्रसाद दक्ष‌िण द‌िशा में रखें और फूल हमेशा सामने रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *