कभी गलती से भी मंदिर के अलावा इस जगह ना पहने पैरो में चप्पल वरना होती है अकाल मृत्यु

कई लोगों की आदत होती है घर में भी चप्पल पहनने की. किसी की आदत होती है तो कोई ठण्ड से और गर्मी से बचने के लिए चप्पलों का इस्तेमाल करता है. कई बार लोगों को धुन मिट्टी से परेशानी होती है जिसके चलते उन्हें घर में भी चप्पल पहननी पड़ती है. घर में चप्पल आप पहन सकते हैं लेकिन कहाँ नहीं पहननी चाहिए इस बात का ध्यान आपको रखना होगा. आपको बता दें घर में दो कमरे ऐसे होते हैं जहाँ पर भूलकर भी ना पहने चप्पल.

* किचन :

रसोई घर का अहम हिस्सा है जहाँ पर जूते या चप्पल पहन कर नहीं चाहिए. कहा जाता है किचन में माँ अन्नपूर्णा का वास होता है और वहां पर चप्पल पहनने से उनका अपमान होता है. अगर रसोई में चप्पल पहन कर जाते हैं तो अन्न में बरकत नहीं होती और माँ अन्नपूर्णा आपक्से रूठ जाती हैं.

* घर का मंदिर :

मंदिर घर का हो या फिर बाहर का, जूते चप्पल पहनकर आप वहां पर नहीं जा सकते. वैसे ही घर के जिस कमरे में मंदिर हो उस कमरे में चप्पल पहनकर कभी ना जाएं. इससे देवी देव नाराज़ होते हैं और घर की सुख समृद्धि नष्ट हो जाती है.

घर को सुख और समृद्ध बनाना है तो चप्पलों को अपने किचन और मंदिर से दूर ही रखें. इससे आपके घर ना कभी धन की कमी होगी, ना सुख सम्रद्धि की और ना ही घर में नकारात्मक शक्ति का वास होगा. घर पर ईश्वर की कृपा हमेशा बनी रहेगी.

वीडियो को देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *