तुला राशि वाले खुशखबरी 3 दिन बाद होगी बेसुमार धन वर्षा

नाव का तबियत पर ख़राब असर हो सकता है। कुछ ज़रूरी योजनाएँ क्रियान्वित होंगी और ताज़ा आर्थिक मुनाफ़ा पहुँचाएंगी। घर पर कोशिश करें कि कोई आपकी वजह से आहत न हो और परिवार की ज़रूरतों के मुताबिक़ ख़ुद को ढालें। आपके प्रेम की राह एक ख़ूबसूरत मोड़ ले सकती है। आज आपको पता चलेगा कि फ़िजा़ओं में जब प्यार घुलता है तो कैसा महसूस होता है। आपका रवैया आपके लिए मुश्किल हालात खड़े कर सकता है। अगर कहीं बाहर जाने की योजना है तो वह आख़िरी वक़्त पर टल सकती है। आँखें दिल की बातें बयान कर देती हैं। यह दिन अपने जीवनसाथी के साथ इसी भाषा में बात करने के लिए है।

उपाय :- घर में हरे रंग के परदे लगाएं इससे सेहत अच्छी रहेगी।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करे

तुला राशि दैनिक राशिफल आपको अपने नियमित कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा। यदि आपका राशिफल तुला है या यूँ कहें कि आप भी तुला राशि के जातक हैं, तो आपको इस दैनिक राशिफल के द्वारा आपकी ज़िन्दगी से जुड़ी किसी भी घटना के होने से पहले निर्देशित किया जाएगा, जिससे आप किसी तरह की परेशानी में न फसें और अपनी असफलता को सफलता में बदल सकें। क्यूंकि यदि हमें किसी भी बुरे घटना के बारे में कोई जानकारी हो जाये, तो हम शायद खुद को पहले ही सावधान कर सकते हैं ताकि उस घटना के कारण किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचे। तुला राशि के दैनिक राशिफल का विश्लेषण करने के लिए पहले तुला राशि के बारे में समझें:

तुला- राशि चिन्ह
तुला राशि, राशि चक्र में सातवें स्थान पर आती हैं। यह राशि सबसे अलग मानी जाती हैं। इसका चिन्ह तराजू के जैसा है, जिसका अर्थ होता है सम्पूर्णता, सुन्दरता एवं संतुलन को समझने की क्षमता रखना। तुला राशी का स्वामी ग्रह “शुक्र” और इसका तत्व वायु होता है। इसका स्वामी ग्रह “शुक्र” होने के कारण इस राशि के लोग सुन्दर चीज़ों से प्रेम करते हैं। ये मात्रा से अधिक गुणवत्ता को प्राथमिकता देते हैं।

100 साल में भी सफ़ेद बालो को 5 मिनट में काला कर देगा यह नुस्खा/Turn white hair to black permanently

आज आपको में बालों के बारे में कुछ ऐसे जबरदस्त नुक्से बताने जा रहा हूं. जो आपके सफेद बालों को चंद दिनों में ही काला कर देंगे तो सबसे पहले एक पीला फॉलो का बटन दबा दी५जिए।

कम उम्र में बाल सफेद होना युवाओं में एक आम समस्या है। असमय बालों के सफेद होने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से अनियमित दिनचर्या खाने में पोषक तत्वों की कमी कमजोरी और अनुवांशिक कारण मुख्य हैं।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करे

बाल झड़ने और सफेद होने का सबसे बड़ा कारण मैदे की गर्मी होती है मैदे की गर्मी की वजह से सबसे ज्यादा बाल झड़ते हैं आप हमें कमेंट में बताइए हम आपको मैदे की पर गर्मी के नुकसान और उसके लिए कुछ घरेलू नुख्से बताएंगे अगले आर्टिकल में अगर आपको यह बातें जाननी है तो हमें कमेंट बताइए हम इसी टॉपिक पर अगला आर्टिकल पोस्ट करेंगे।

बनाने की विधि

सबसे पहले आप 100 ग्राम शुद्ध पीली सरसों का तेल लीजिए उसको हल्की गैस पर गर्म करो और फिर 20 ग्राम कलौंजी ले लीजिए। कलौंजी को तेल में मिला दीजिए 2:00 से 3:00 मिनट तक ऐसे ही रहने दीजिए फिर ठंडा करने के बाद किसी बारीक कपड़े से छान ले और सुबह शाम अच्छी तरह बालों की मालिश करे। सर पर मसाज कम से कम 5 मिनट के करनी है।

इसके 3 दाने ही डाइबिटीस को हमेशा के लिए जड़ से खत्म कर देंगे//daibites ka ilaaj

भुने हुए चने के अंदर भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं जैसे कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम और विटामिन। अगर हम सही मात्रा में चने का सेवन करें तो हमें बादाम खाने जितना फायदा होगा। कई लोग बादाम नहीं खा पाते क्योंकि वह बहुत महंगी होती है तो अब आप चने का सेवन जरूर करें।

वीडियो दिखने के लिए यहां क्लिक करे

भुना हुआ चना खाने के फायदे-

मौसमी बुखार- मौसम बदलने के साथ-साथ कई सारी बीमारियां हमारे शरीर में हो जाते हैं जैसे बुखार, खांसी, सर्दी और ज्यादातर यह बरसात के मौसम नहीं होती है। बरसात के मौसम में बरसात के मौसम में तुम्हारे शरीर के अंदर कई सारे बकरियां पानी के माध्यम से आ जाती हैं लेकिन हर रोज थोड़ा सा भुना हुआ चना खाने से यह बीमारियां कभी नहीं होगी।

अधिक मोटापा- कई लोग मोटापे से परेशान है और जो अपना मोटापा कम करना चाहते हैं उनके लिए भुना हुआ चना बहुत ही फायदेमंद है।

डायबिटीज- डायबिटीज होने पर भुना हुआ चना बहुत फायदेमंद साबित होता है। यह हमारे शरीर से ग्लूकोज की मात्रा को कम करता है और डायबिटीज को नियंत्रण में लाता है।

शरीर में खून की कमी- के लोगों के अंदर हीमोग्लोबिन की कमी होती है और वह कमजोर महसूस करते हैं। प्रतिदिन भुना हुआ चना खाने से खून की मात्रा शरीर में बढ़ जाएगी और तंदुरुस्ती आ जाएगी।

सांस की तकलीफ- अगर आपके घर में किसी को भी सांस की तकलीफ है तो उन्हें भी भुना हुआ चना जरूर खिलाएं। रात को सोते समय एक मुट्ठी भुना हुआ चना गरम दूध के साथ खाने से 1 हफ्ते में आपको फर्क महसूस होगा।

कभी गलती से भी मंदिर के अलावा इस जगह ना पहने पैरो में चप्पल वरना होती है अकाल मृत्यु

कई लोगों की आदत होती है घर में भी चप्पल पहनने की. किसी की आदत होती है तो कोई ठण्ड से और गर्मी से बचने के लिए चप्पलों का इस्तेमाल करता है. कई बार लोगों को धुन मिट्टी से परेशानी होती है जिसके चलते उन्हें घर में भी चप्पल पहननी पड़ती है. घर में चप्पल आप पहन सकते हैं लेकिन कहाँ नहीं पहननी चाहिए इस बात का ध्यान आपको रखना होगा. आपको बता दें घर में दो कमरे ऐसे होते हैं जहाँ पर भूलकर भी ना पहने चप्पल.

* किचन :

रसोई घर का अहम हिस्सा है जहाँ पर जूते या चप्पल पहन कर नहीं चाहिए. कहा जाता है किचन में माँ अन्नपूर्णा का वास होता है और वहां पर चप्पल पहनने से उनका अपमान होता है. अगर रसोई में चप्पल पहन कर जाते हैं तो अन्न में बरकत नहीं होती और माँ अन्नपूर्णा आपक्से रूठ जाती हैं.

* घर का मंदिर :

मंदिर घर का हो या फिर बाहर का, जूते चप्पल पहनकर आप वहां पर नहीं जा सकते. वैसे ही घर के जिस कमरे में मंदिर हो उस कमरे में चप्पल पहनकर कभी ना जाएं. इससे देवी देव नाराज़ होते हैं और घर की सुख समृद्धि नष्ट हो जाती है.

घर को सुख और समृद्ध बनाना है तो चप्पलों को अपने किचन और मंदिर से दूर ही रखें. इससे आपके घर ना कभी धन की कमी होगी, ना सुख सम्रद्धि की और ना ही घर में नकारात्मक शक्ति का वास होगा. घर पर ईश्वर की कृपा हमेशा बनी रहेगी.

वीडियो को देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

महादेव शिव की पूजा में कभी ना अर्पित करना इसे वरना पूजा का आपको मिलेगा विपरीत फल

हमारे हिन्दू धर्म में अनेक देवी देवताओ की पूजा की जाती है और साब्की अपनी अपनी प्रथाए हैं| सभी देवी देवताओ की पूजा अलग अलग ढंग से की जाती है लेकिन आज हम जिस देवता की बात करने जा रहे हैं वो हैं देवों के देव महादेव। कालों के भी काल महाकाल। अब तो आप समझ ही गये होंगे की हम शिव जी की बात कर रहे हैं जो की अपने भक्तो के ऊपर बहुत जल्दी खुश हो जाते हैं| कुछ चूक हो जाए तो भाले के समान भी हैं। क्रोध के कारण रौद्र रूप भी धारण कर लेते हैं।

हमारे हिन्दू धर्म में प्रत्येक देवी-देवता की पूजा की अलग-अलग पद्धतियां बताई गयी हैं। हर देवी देवता की पूजा में अलग-अलग सामग्री का उपयोग किया जाता है। कुछ सामग्री ऐसी होती हैं, जिनका प्रयोग करना उलटा परिणाम भी दे सकता है। ऐसा भगवान शिव के साथ भी है। सभी जानते हैं कि भोलेनाथ को बेलपत्र, भांग, धतूरा आदि प्रिय हैं, लेकिन यहां आज हम आपको ऐसी 8 सामग्री बताते हैं, जो भगवान शिव को अर्पित नहीं करनी चाहिए। आइये जानते है वो चीज़े कौन सी हैं|

1. शंख से जल:

सबसे पहली वास्तु है संख जो की शिव जी को नही चढ़ाना चाहिए कहा जाता है की भगवान शिव ने शंखचूड़ नाम के असुर का वध किया था। शंख को उसी असुर का प्रतीक माना जाता है जो भगवान विष्णु का भक्त था। इसलिए विष्णु भगवान की पूजा तो शंख से की जाती है लेकिन शिव की नहीं।

2.तुलसी:

दूसरा है तुलसी जिसके बारे में कहा जाता है की जलंधर नामक असुर की पत्नी वृंदा के अंश से तुलसी का जन्म हुआ था जिसे भगवान विष्णु ने पत्नी रूप में स्वीकार किया है। इसलिए तुलसी से शिव जी की पूजा नहीं होती। एक प्राचीन कथा के मुताबिक जलंधर नामक राक्षस से सब त्रस्त थे लेकिन उसकी हत्य नहीं हो सकती थी क्यों कि उसकी पतिव्रता पत्नी वृंदा के तप से उसका कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता था। तब विष्णु ने छल से वृंदा के पति का वेष धारण किया और उसका धर्म भ्रष्ट कर दिया उधर भगवान शिव ने जलंधर का वध किया। तब पवित्र तुलसी ने स्वयं भगवान शिव को अपने स्वरूप से वंचित कर यह शाप दिया था कि आपकी पूजन सामग्री में मैं नहीं रहूंगी।

3.तिल:

तीसरा है टिल जोसके बारे में कहा जाता है की यह भगवान विष्णु के मैल से उत्पन्न हुआ माना जाता है इसलिए इसे भगवान शिव को नहीं अर्पित किया जाता|

4.खंडित चावल:

भगवान शिव को अक्षत यानी साबूत चावल अर्पित किए जाने के बारे में शास्त्रों में लिखा मिलता है। टूटा हुआ चावल अपूर्ण और अशुद्ध होता है इसलिए कभी भी यह शिव जी को नहीं अर्पित करना चाहिए|

5.कुमकुम:

सिंदूर या कुमकुम विवाहित महिलाओं का गहना माना जाता है स्त्रियां अपने पति के लंबे और स्वस्थ जीवन की कामना के लिए सिंदूर लगाती हैं। इसके उलट महादेव त्रिदेवों में विनाशक हैं। लिहाजा सिंदूर से उनकी सेवा करना अशुभ माना जाता है। यह सौभाग्य का प्रतीक है जबकि भगवान शिव वैरागी कहे जाते हैं इसलिए शिव जी को कुमकुम नहीं चढ़ता।

6.हल्दी:

गुणों की खान हल्दी का भले ही स्वास्थ्यवर्धक हो। सुंदरता बढ़ाने के लिए किया जाता हो, लेकिन शिवलिंग पर कभी हल्दी नहीं चढ़ाई जाती, क्योंकि वह स्वयं शिव का रूप है, इसलिए हल्दी को निषेध किया गया है। हल्दी का संबंध भगवान विष्णु और सौभाग्य से है इसलिए यह भगवान शिव को नहीं चढ़ती है।

7.नारियल पानी:

महादेव को भले ही नारियल अर्पित किया जाता है, लेकिन कभी भी नारियल के पानी से अभिषेक नहीं करना चाहिए। आमतौर पर देवताओं को चढ़ाए जाने वाले प्रसाद को ग्रहण किया जाता है, लेकिन शिवलिंग पर जिन पदार्थों से का अभिषेक होता है उन्हें ग्रहण नहीं किया जाता। इसलिए शिव जी पर नारियल का जल नहीं चढ़ाना चाहिए।

वीडियो को देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

8.केतकी फूल:

केतकी का फूल को भगवान शिव ने क्यों त्याग दिया, इसका उत्तर शिवपुराण में बताया गया है। कहा जाता है इस फूल का विस्तार रक्छस के अंग से हुआ है इसलिए सको भगवान् शिव पसंद नही कार्य| और ये फूल कभी भी भगवान् भोलेनाथ को नही चढ़ाया जाता है|

यदि सपने में दिखे भगवान शिव आपको तो समझो मिल चूका है यह ख़ास संदेश

भारतीय संस्कृति और धर्म के अनुसार हमें हर घर में भगवान का मंदिर मिल जाता है, और लोग सुबह शाम अपने घर में भगवान के आगे दीपक जलाकर और आरती करके आराधना करते है ताकि उनके ऊपर किसी तरह की समस्या न आये.

वहीं भगवान भी अपने भक्तो पर हमेशा कृपा द्रष्टि बनाये रखते है और हमारे जीवन में आने वाली खुशियां और दुःखो को संकेतो में भी बता जाते है लेकिन हम उन्हें इतने आसानी से समझ नहीं पाते है. आज हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसी बातें जिनके माध्यम से आप भगवान के संकेतो को समझ पाएंगे.

अगर आपके सपने में बार-बार भगवान आते है तो आप समझ जाइये कि आप से भगवान बहुत खुश है और सपने में भगवान का आना शुभ माना गया है. जिन लोगों पर दैवीय शक्तियां मेहरबान रहती हैं उन्हें पहले से ही बुरे और अच्छे वक्त आभास हो जाता है, वे अपने आस पास की हो रही घटना से समझ जाते है कि आगे क्या होने वाला है.

ऐसा माना जाता है कि जिन लोगों पर भगवान की कृपा होती हैं, उन्हें कम मेहनत में भी सफलता हासिल हो सकती है. कहा जाता है कि ये इस बात का संकेत है कि आपको भगवान हर मुसीबत से बचा लेता है. अगर किसी को समाज में अधिक मान सम्मान मिलता है तो समझ लीजिये कि आपके ऊपर भगवान की भरपूर कृपा दर्ष्टि है जो आपके साथ कभी बुरा नहीं होने देगी.

वीडियो को देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

हनुमान चालीसा का करे इस समय जाप मांगने से पहले ही हाथो हाथ मिल जायेगा//hanuman chalisa

हनुमान जी हिन्दू धर्म के प्रमुख देवी देवताओं में से एक है जो कि अपने भक्तों को डर से जीतने की शक्ति और बल प्रदान करते है। जो लोग पूर्ण भक्ति और श्रद्धा से हनुमान जी की पूजा करते है, उन्हें हर प्रकार की समस्या से छुटकारा मिलता है। हनुमान जी की पूजा में हनुमान चालीसा का विशेष महत्व है। कई लोगों का मानना है कि जो व्यक्ति हनुमान चालीसा की इन पवित्र चौपाइयों का जाप करता है, उन्हें हनुमान जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

वीडियो दिखने के लिए यहां क्लिक करे

हनुमान जी के भक्तों को अक्सर मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए कहा जाता है जो कि हनुमान जी की पूजा करने के लिए सबसे अच्छा दिन माना जाता है। आपको सर्वश्रेष्ठ परिणाम प्राप्त करने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करते समय निम्न बातों का ख़ास ध्यान रखना चाहिए।

आपको केवल नहाने के बाद ही हनुमान चालीसा को हाथ लगाना चाहिए। मंगलवार के अलावा हनुमान चालीसा को केवल शनिवार के दिन ही पढ़ा जाना चाहिए।

प्राचीन शास्त्रों के अनुसार सुबह का समय हनुमान चालीसा को पढ़ने का सबसे अच्छा समय माना जाता है। और जो लोग शनि की साढ़े साती की समस्या से पीड़ित है, उन लोगों को रात के समय 8 बार इसका जाप करना चाहिए। इसकी मदद से आपको शनि के नकारात्मक प्रभाव से छुटकारा मिलता है।

अत्यधिक लाभकारी परिणामों के लिए हनुमान चालीसा का पाठ सुबह के समय पांच बार और रात के समय 8 बार किया जाना चाहिए।

सुबह सुबह उठकर भूलकर भी ना देखना ये 5 चीजें, वरना हमेशा के लिए हो जाओगे बर्बाद

शास्त्रों में कहा भी गया है सुबह उठते ही कोई भी ऐसी चीज़ें ना देखें जो आपके दिन को ख़राब करती हो। लेकिन कभी-कभी हम समझ नहीं पाते वो कौनसी चीज़ होगी और अनजाने में हम घर की लगभग सभी चीज़ों को देख ही लेते हैं। तो आज हम आपको कुछ ऐसी ही चीज़ों के नाम बताने जा रहे हैं जिनका आपको ध्यान रखना है यानि सुबह उठाते से आपको चीज़ें ना दिखाई दें।

वीडियो दिखने के लिए यहां क्लिक करे

सुबह ना देखें ये चीजें:

सुबह उठाते से शीशे में नहीं देखना चाहिए। ऐसा करना आपको दुखी कर सकता है और दिन ख़राब कर सकता है।
सुबह उठते ही ईष्टदेव का ध्यान करें इससे आपका दिन बेहतर बनेगा और सकारात्मक भाव बने रहेंगे।

आर्थिक राशिफल 12 जुलाई: इन लोगों को व्यवसाय में मिलेगी सफलता और आपको
सुबह उठते ही अगर आपको मंदिर की घंटी या फिर शंख की आवाज़ सुनाई दे तो आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

घर में कुछ ऐसी तस्वीरें हों जिनसे आपको पॉजिटिव एनर्जी मिलती हो। नारियल, शंख, मोर, हंस या फूल आदि की तस्वीरें भी लगा सकते हैं।

सुबह किसी भी पशु का नाम लेना चाहिए इससे गलत असर पड़ता है और आपका दिन ख़राब बीत सकता है।

सुबह खाली पेट 3 दाने काली मिर्च जुड़ से खत्म हो जायेंगे यह 3 रोग

गर्म मसाले में इस्‍तेमाल होने वाली काली मिर्च से आप कई बीमारियों का इलाज घर बैठे ही कर सकते है। आमतौर पर यह अवधारणा है कि काली मिर्च का ज्यादा सेवन आपकी सेहत को नुकसान दे सकता है। इसलिए यह जरूरी है कि आप संयमित रूप से काली मिर्च का सेवन करें। हर दिन केवल तीन काली मिर्च कई मायनों में फायदेमंद साबित होंगी। यहां जानिए कैसे:

वीडियो दिखने के लिए यहां क्लिक करे

दांतों के लिए फायदेमंद

दांतों से जुड़ी समस्याओं से राहत देने के लिए काली मिर्च का सेवन अच्छा है। इसके सेवन से मसूड़ों के दर्द में बहुत जल्दी आराम मिलता है। यदि आप काली मिर्च, माजूफल और सेंधा नमक को मिलाकर चूर्ण बनाकर कुछ बूंद सरसों के तेल में मिलाकर दांतों और मसूड़ों में लगाकर आधे घंटे बाद मुंह साफ कर लें। इससे आपके दांत और मसूड़ों में दर्द होने वाली समस्या भी दूर हो जाएगी।

पेट दर्द

अगर आपको भी अक्सर ही पेट दर्द की शिकायत रहती है तो काली मिर्च आपके लिए बड़े काम की हो सकती है। रोज सुबह खाली पेट तीन काली मिर्च को पीस कर उसमें आधा चम्मच शहद मिलाकर उसका सेवन करें तो आपको पेट दर्द की समस्या से जल्द ही निजात मिल सकता है।

पिम्पल्स

चेहरे पर मुहासें या पिम्पल की समस्या है तो काली मिर्च फायदेमंद है। यह पिम्पल्स की समस्या से निजात पाने का सबसे आसान तरीका है। रोज सुबह खाली पेट तीन काली मिर्च को पीस कर उसका सेवन करें। इसके अलावा काली मिर्च को पीस कर पिम्पल वाली जगह लगाने से भी इस समस्या से जल्द निजात पाया जा सकता है।

पेट के कीड़ों को दूर करें

काली मिर्च के पाउडर को खाने में इस्‍तेमाल करने से पेट में कीडों की समस्या दूर होती है। काली मिर्च के साथ किशमिश खाने से यह समस्या बार-बार नहीं होती।

कैंसर से बचाव

कालीमिर्च में विटामिन सी, विटामिन ए, फ्लेवोनॉयड्स, कारोटेन्स और अन्य एंटी -ऑक्सीडेंट होता है, जिससे महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।

किसी भी स्त्री को भूलकर भी ना बोले यह 2 शब्द वरना जिंदगी बन जाएगी नर्क

स्त्रियों को देवी का दर्जा प्राप्त है और एक स्त्री ही है जो मां बहन और बीबी का रूप है। यही स्त्री घर को स्वर्ग और नर्क दोनों बना सकती है। स्त्रियों के अंदर वे गुण हैं जिसकी हम कल्पना भी नही कर सकते। आज हम आपको 2 ऐसी बातों को बताएंगे जिसे भूल कर भी कभी किसी स्त्री से नही कहना चाहिए अन्यथा हो सकता है आपको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ जाए। आइये जानते हैं वे 2 बातें क्या हैं।

वीडियो दिखने के लिए यहां क्लिक करे

1. कभी भी भूलकर भी किसी स्त्री को बांझ नही कहना चाहिए। ये जरूरी नही है कि सभी स्त्रियाँ मां ही बन जाये। कई बार स्त्रियों के अंदर कुछ नेचुरल कमी के कारण वो मां नही बन पाती और इसमें किसी भी स्त्री का कोई दोष नही है। ऐसे में जब आप ऐसी स्त्री को बांझ कह कर बुलाते हैं तो उस स्त्री को बहुत ही दुख होता है और हो सकता है दुख के गम में उसने यदि आपको बद्दुआ दे दिया तो सारी जिंदगी आपको भुगतना पड़ सकता है। इनकी बददुवाएं कभी खाली नही जाती क्योंकि ये दिल से बद्दुआ देती हैं।

2. इस दुनिया मे सभी महिलाएं शौक से वेस्या का काम नही करती। इसमें जरूर उनकी कोई मजबूरी होती है तभी वो ऐसे गलत रास्ते पर निकल पड़ती है। इसलिए कोई भी स्त्री भले ही वो वेस्या क्यों न हो खुद के लिए ये सुनना बिल्कुल पसंद नही करेगी कि आप उसे ऐसा शब्द कहें। ये उनकी मर्जी है उन्हें उनके हाल पर छोड़ दें अन्यथा हो सकता है उसके जुबान से आपके लिए कोई बद्दुआ निकल जाए और आपको सारी जिंदगी सिर्फ एक शब्द कहने के लिए भुगतना पड़ जाए।